class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

केंद्रीय मंत्री ने डाला दबाव: न्यायाधीश

केंद्रीय मंत्री ने डाला दबाव: न्यायाधीश

मद्रास उच्च न्यायालय के एक न्यायाधीश ने सनसनीखेज खुलासा करते हुए सोमवार शाम एक खुली अदालत में कहा कि सीबीआई द्वारा एक डॉक्टर और उसके बेटे के खिलाफ दर्ज फर्जी अंक पत्र मामले में एक केंद्रीय मंत्री ने उन्हें प्रभावित करने की कोशिश की।

न्यायाधीश आर रघुपति ने सोमवार को शाम कहा कि एक केंद्रीय मंत्री ने मुझसे बात की और याचिकाकर्ताओं को अग्रिम जमानत देने के लिए मुझे प्रभावित करने की कोशिश की। न्यायाधीश रघुपति ने यह बात तब कही जब पुदुचेरी के एक निजी मेडिकल कॉलेज में तीसरे वर्ष के छात्र एस किएब कुमार और उनके डॉक्टर पिता कृष्णमूर्ति की ओर से अदालत में उपस्थित वकील ने शिकायत की कि अभियोजन की गवाही के आधार पर न्यायाधीश उनके मुवक्किल को अग्रिम जमानत नहीं दे रहे।

न्यायाधीश ने कहा कि वह कोई राहत नहीं देना चाहते हैं क्योंकि 15 जून को उन्होंने ही उनकी याचिका खारिज की थी। इसके बाद वकील ने यह टिप्पणी की।

इससे भड़के न्यायाधीश ने कहा कि इस मुद्दे पर एक केंद्रीय मंत्री ने उनसे बात की। न्यायाधीश रघुपति ने कहा कि उन पर दबाव बनाने को लेकर वह प्रधानमंत्री को भी पत्र लिखेंगे। बहरहाल, न्यायाधीश ने मंत्री का नाम नहीं बताया ।

सीबीआई ने पुदुचेरी विश्वविद्यालय के एक अधिकारी और एक मध्यस्थ की सहायता से श्रीधर के अंक में हेरा-फेरी के लिए पिता़-पुत्र पर मामला दर्ज किया हुआ है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:केंद्रीय मंत्री ने डाला दबाव: न्यायाधीश