class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यमन: विमान दुर्घटनाग्रस्त, 150 लापता

यमन: विमान दुर्घटनाग्रस्त, 150 लापता

यमन की सरकारी हवाई यात्रा प्रदाता कंपनी यमीनिया एयर का एक ए-310 विमान हिंद महासागर में कोमोरोस द्वीपसमूह के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गया। 142 यात्रियों और 11 चालक दलों वाले इस विमान में ज्यादातर नागरिक फ्रांस और कोमोरोस के थे।

दुर्घटनाग्रस्त विमान की खोज के लिए फ्रांस के सैन्य विमानों ने मायोटी से उड़ान भी है। कोमोरोस के उप राष्ट्रपति इदी नादहोईम ने घटना की पुष्टि करते हुए कहा कि 153 लोगों को ले जा रहा विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया, हालांकि इसके दुर्घटनाग्रस्त होने की जगह के बारे में अभी स्थिति स्पष्ट नहीं हो पाई है। हमें आशंका है कि यह मित्सामियोली के आसपास दुर्घटनाग्रस्त हुआ है।


हिंद महासागर में क्षेत्रीय हवाई सुरक्षा संस्था (एएसईसीएएनए) के प्रतिनिधि इब्राहिम कासिम ने बताया कि विमान के तट से लगभग पांच से 10 किलोमीटर दूर दुर्घटनाग्रस्त हो जाने की आशंका है। विमान की तलाश में सैन्य और असैन्य विमानों को भेजा गया है। कासिम ने बताया कि मौसम विमान के उड़ान के बिल्कुल प्रतिकूल हो गया था।

मोरोनी हवाई अड्डा पर मौजूद संयुक्त राष्ट्र के एक अधिकारी ने अपना नाम गुप्त रखने की शर्त पर कहा कि दुर्घटनाग्रस्त होने के पहले विमान से नियंत्रण कक्ष को एक संदेश भेजा गया था कि वह जमीन पर उतरने वाला है। लेकिन इसके बाद विमान का नियंत्रण कक्ष से संपर्क टूट गया।

कोमोरोस द्वीपसमूह तीन ज्वालामुखीय द्वीपों ग्रांड कोमोरे, अंजोयान और मोहेलाय द्वीपों से मिलकर बना है और मेडागास्कर के पश्चिमोत्तर में 300 किलोमीटर दूर स्थित है। क्षेत्र में स्थित विमान सुरक्षा संस्था (एएसईसीएनए) के अनुसार दुर्घटनास्थल के पास का शहर मित्साम्योली ग्रैंड कोमोरे द्वीप पर ही स्थित है। इससे पहले वर्ष 1996 में एक अपहृœत इथियोपियाई विमान बोईंग 767 के दुर्घटनाग्रस्त हो जाने के कारण इसमें सवार 175 सवार लोगों में से 125 की मौत हो गई थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:यमन: विमान दुर्घटनाग्रस्त, 150 लापता