class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

क्षमता वृद्धि की मुहिम में जुटा एनटीपीसी

राष्ट्रीय ताप विद्युत निगम (एनटीपीसी) ने पूर्वाचल में स्थित अपनी बिजली परियोजनाओं की क्षमता वृद्धि का काम तेज कर दिया है। निगम के सीएमडी आरएस शर्मा ने सोमवार को 3260 मेगावाट क्षमता के विंध्याचल ताप बिजलीघर के चौथे चरण के विस्तार का भूमि पूजन किया।

इस चरण में 500 मेगावाट की दो इकाइयाँ लगने से परियोजना की क्षमता में एक हजार मेगावाट का और इजाफा हो जाएगा। श्री शर्मा ने इस मौके पर उम्मीद जताई कि चौथे चरण का काम रिकार्ड 32 महीने में पूरा हो जाएगा।
श्री शर्मा ने रिहंद और ¨सगरौली का भी दौरा किया। रिहंद में एनटीपीसी तीसरे चरण के विस्तार के तहत एक हजार मेगावाट और ¨सगरौली में तीसरे चरण के तहत 500 मेगावाट की अतिरिक्त क्षमता जोड़ेगा।

एनटीपीसी इसके अलावा यूपी में इलाहाबाद जिले के मेज में उप्र के साथ संयुक्त क्षेत्र में 1980 मेगावाट की नई परियोजना भी लगा रहा है। टाण्डा में भी इतनी ही क्षमता का विस्तार होना है जिसके लिए यूपी सरकार ने जमीन मंजूर कर दी है।

एनटीपीसी विंध्याचल के वरिष्ठ प्रबंधक (मानव संसाधन-जनसंपर्क) आरपी श्रीवास्तव की ओर से जारी बयान के मुताबिक सीएमडी ने भूमि पूजन के बाद परियोजना के काम-काज की विस्तार से समीक्षा की। बैठक में परियोजना के अधिशासी निदेशक एससी पाण्डेय व अन्य अफसर मौजूद थे।

कर्मचारियों को संबोधित करते हुए सीएमडी ने इस बार पर खुशी जताई कि विंध्याचल में हाल के वर्षो में 90 फीसदी प्लांट लोड फैक्टर (पीएलएफ) पर काम हुआ है। परियोजना के अधिशासी निदेशक ने भरोसा दिलाया कि आगे और बेहतर नतीजे निकालने की कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:क्षमता वृद्धि की मुहिम में जुटा एनटीपीसी