class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कुख्यात बदमाश ने 17 बड़े व्यापरियों ने रंगदारी मांगी

मुख्यमंत्री सुरक्षा के दावों का कितना भी दम भरती हो,लेकिन उनके पैतृक जनपद में एक स्थानीय बदमाश ने दादरी के 17 बड़े व्यपारियों से रंगदारी मांगी है। नहीं देने पर उनके बच्चों ही हत्या की धमकी दी है। हद तो यह है कि इस बात की जानकारी व्यापारियों ने जब पुलिस को दी तो पुलिस ने इस मामले में कार्रवाई की जगह चुप्पी साधी हैं। व्यापारी अब इस मामले में उनके पैतृक गांव बादलपुर में उनके पिता की शरण में गए है और कहा है वे बदमाश से उन्हें मुक्ति दिलाएं। बताया जाता है कि रंगदारी मांगने वाले बदमाश को स्थानीय बसपा विधायक व एक बड़े नेता का संरक्षण प्राप्त है।


दादरी व्यापार मण्डल के अध्यक्ष विनोद गोयल ने बताया कि दादरी के भट्टा, कपड़ा, जूता , परचून व रेडीमेड के व्यापारियों से दादरी कोतवाली का हिस्ट्रीशिटर व एक गांव का प्रधान अपने गैंग के बदमाशों से एक हफ्ते में करीब 17 व्यापारियों को फोन पर रंगदारी मांग रहा है। यह बदमाश अभी हाल में जेल से छूट कर आया है। पूर्व में यह भी बदमाश यहां रंगदारी वसूलता था, लेकिन सरकार के आते ही इसे जेल भेज गया था, परन्तु इन दिनों फिर एक बसपाई नेता के संरक्षण के आते ही वह जेल से बाहर आया और पुराने ढर्रे पर कार्य करने लगा है। व्यापारियों ने इस मामले में दादरी में लिखित शिकायत दी और अपने बच्चों की सुरक्षा की मांग की,हालांकि इस पर पुलिस ने अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की। जिसके कारण बुद्धवार को दादरी बाजार बंद करने का आहवान किया गया है यही नहीं इस मामले में यह भी कहा है कि वे बादलपुर गांव में जाकर शरण लेगें और अपनी रक्षा करेगें।


दिल्ली से सटे इस शहर में जब रंगदारी इतने उफान पर है तो उत्तरप्रदेश में क्या होगा इसका अंदाज लगाया जा सकता हैं। मामले में जब एसपी देहात एस.के.वर्मा से बात की गई तो उन्होंने कहा कि शिकायत उन्हें मिली है,लेकिन रंगदारी की बात सामने नहीं आई है। उन्होंने कहा कि ये सभी राजनैतिक पार्टियों से संबंधित है। जिसके कारण इसे तूल दिया जा रहा है,हम मामले की जांच कर रहें है अगर पाया तो कार्रवाई की जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कुख्यात बदमाश ने 17 बड़े व्यापरियों ने रंगदारी मांगी