class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुंबई हमलों के जिम्मेदार लोगों को सजा दे पाक, तभी होगी आगे की बातः विदेश राज्यमंत्री

मुंबई हमलों के जिम्मेदार लोगों को सजा दे पाक, तभी होगी आगे की बातः विदेश राज्यमंत्री

भारत सरकार ने सोमवार को स्पष्ट किया कि वह अपने पड़ोसियों से बातचीत के कभी भी खिलाफ नहीं है लेकिन पाकिस्तान के साथ समग्र वार्ता उसी स्थिति में शुरू हो सकती है जब पाक इस बात का आश्‍वासन दे कि उसकी धरती से मुम्बई जैसे आतंकी हमले का खतरा नहीं होगा।

मुम्बई पर आतंकी हमले को अंजाम देने वालों को न्याय के कटघरे में खड़ा करने की मांग को दोहराते हुए विदेश राज्य मंत्री शशि थरूर ने कहा कि पाकिस्तान के राष्ट्रपति को प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का संदेश काफी स्पष्ट और सतत था।

उन्होंने कहा कि संदेश यह था कि पाक अपने देश में हमारी धरती पर ऐसे भयानक कृत्य को अंजाम देने वाले लोगों को न्याय के कटघरे में खड़ा करे और दोषियों के खिलाफ कड़ी कर्रवाई करे। साथ ही इस बात का भी विश्‍वास दिलाए कि भविष्य में कभी भी उसकी तरफ से मुम्बई जैसे आतंकी हमले का खतरा नहीं होगा।

शशि थरूर ने संवाददाताओं से कहा कि नवंबर में पाकिस्तान की तरफ से जो घटना सामने आई उस संबंध में पहला कदम पाकिस्तान को उठाना है। और इसके बाद ही निश्चित तौर पर पाकिस्तान से बातचीत करने का आधार बन सकता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पाक से आश्‍वासन मिलने के बाद ही बातचीतः शशि थरूर