class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सायना का सपना टाप फाइव में नाम हो अपना

सायना का सपना टाप फाइव में नाम हो अपना

भारतीय बैडमिंटन की वंडर गर्ल सायना नेहवाल को नंबर वन रैंकिंग पर पहुंचने की कोई जल्दी नहीं है और इस साल उसने शीर्ष पांच में शामिल होने का लक्ष्य रखा है।

मलेशिया से लौटने के बाद बातचीत में सायना ने कहा कि वह कदम दर कदम रणनीति बनायेगी। उन्होंने कहा कि इस साल उसका लक्ष्य शीर्ष पांच में पहुंचना है। उन्होंने कहा कि मेरा अगला लक्ष्य हैदराबाद में अगस्त में विश्व चैम्पियनशिप में अच्छा प्रदर्शन करना है। उसके बाद चीनी ताइपै और मकाउ में टूर्नामेंट खेलने हैं। साल के आखिर में शीर्ष पांच में पहुंचना मेरा लक्ष्य है।

इंडोनेशिया ओपन में खिताबी जीत से सायना का आत्मविश्वास बढ़ा है और वह उंचे सपने देखने लगी है। उनका मानना है कि नंबर वन रैंकिंग पाना मुश्किल सही पर नामुमकिन नहीं है। विश्व रैंकिंग में सातवें नंबर पर काबिज सायना ने कहा कि नंबर वन बनना आसान नहीं होगा। यह बहुत कठिन है। लगातार जीतना जरूरी है। यह असंभव नहीं है लेकिन इसमें समय लगेगा।

सायना को हालांकि अपनी उपलब्धि का जश्न मनाने का अधिक समय नहीं मिला क्योंकि उन्हें तुरंत ही मलेशिया ओपन ग्रां प्री गोल्ड में भाग लेने के लिये जाना पड़ा जहां वह क्वार्टर फाइनल में चीनी क्वालीफायर से हार गयी और इस तरह उनका लगातार दो खिताब जीतने का सपना टूट गया। उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि मेरी फिटनसे अच्छी थी लेकिन मानसिक थकान के कारण मैं हार गयी। जब आप लगातार खेलते हैं तो कभी कभार ऐसा हो जाता है। सायना ने कहा कि झिंन वांग के खिलाफ मैंने कुछ आसान अंक गंवाये लेकिन इसको लेकर मैं निराश नहीं हूं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सायना का सपना टाप फाइव में नाम हो अपना