class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अतिक्रमण दस्ते-झुग्ग्गीवालों में संघर्ष, बीस से अधिक घायल

 वैशाली सेक्टर-6 में झुग्गियां हटाने पहुंचे जीडीए के दस्ते को झुग्गीवासियों कें जबरदस्त आक्रोश का सामना करना पड़ा। दो झुग्गियों में आग लगने के बाद झुग्गीवसियों ने जीडीए के दस्ते पर पथराव करना शुरू कर दिया। लोगों का आरोप था कि जीडीए ने झुग्गी में आग लगाई है जिसमें दो महिलाएं झुलस गई।

मौके पर पहुंची पुलिस पर भी झुग्गीवासियों ने जमकर पथराव किया। जवाब में पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। इस बलवे में दोनों पक्षों के दो दर्जन से ज्यादा लोग घायल हो गए। पुलिस ने शांति भंग करने, बलवा करने के आरोप में 17 को अरेस्ट किया है।


जानकारी के मुताबिक वैशाली सेक्टर-6 में जीडीए की करीब तीन एकड़ जमीन पड़ी हुई है। जिस पर तकरीबन 250 झुग्गियां बनी हुई है। जीडीए का कहना है कि नागरिक सुविधाओं के लिए जीडीए ने यह जमीन रखी हुई है। रविवार दोपहर पौने बारह बजे के करीब जीडीए में इंजीनियर एके गुप्ता और ओएसडी आरपी पांडे जीडीए के सचल दस्ते के साथ यहां पर बनी झुग्गियों को हटाने पहुंचे। जैसे की जेसीबी ने झुग्गियां हटाने का प्रयास किया लोगों ने बवाल शुरू कर दिया। इस बीच दो झुग्गियों में आग लग गई। जिसमें दो महिलाएं झुलस गई। जैसे ही यह खबर फैली लोगों ने पथराव शुरू कर दिया। झुग्गीवासियों का आरोप है कि जीडीए कर्मियों ने जानबुझकर जगह को खाली कराने के लिए झुग्गियों में आग लगाई।

जबकि जीडीए का कहना है कि झुग्गीवासियों ने खुद आग लगाई थी। पथराव व हंगामे की सूचना पर इंदिरापुरम, लिंकरोड साहिबाबाद समेत कई थानों की पुलिस वहां पर पहुंच गई। एहतियात के लिए पीएससी की एक बटालियन भी मौके पर बुला ली गई। भीड़ पर काबू पाने के लिए पुलिस को लाठी चार्ज करना पड़ा। पथराव व लाठी चार्ज में तकरीबन दो दर्जन लोग घायल हो गए। कई जीडीए कर्मियों को भी चोट आई हैं। एसपी सिटी राहुल यादबेन्दु ने बताया कि बलवा, करने हंगामा करने के आरोप में 17 लोगों को अरेस्ट किया गया है। जीडीए की ओर से जो तहरीर दी जाएगी उस आधार पर मामला दर्ज किया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अतिक्रमण दस्ते-झुग्ग्गीवालों में संघर्ष, बीस से अधिक घायल