class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शाद अल हरीरी बने लेबनान के प्रधानमंत्री

शाद अल हरीरी बने लेबनान के प्रधानमंत्री

लेबनान के राष्ट्रपति मिशेल सुलेमान ने शाद अल हरीरी को देश का प्रधानमंत्री नियुक्त किया है। इससे पहले संसद में हरीरी को कुल 128 सीटों में से 86 मत मिले थे। इसके बाद राष्ट्रपति ने एक आदेश जारी कर हरीरी को प्रधानमंत्री नियुक्त किया। हरीरी ने सात जून को हुए चुनाव में ईरान समर्थित शिया इस्लामिक गुट हिजबुल्ला तथा उसके सहयोगियों को हराया था।

शाद अल हरीरी राजनीतिज्ञ रफीक अल हरीरी के बेटे हैं। रफीक अल हरीरी की वर्ष 2005 में हत्या कर दी गई थी। 39 वर्षीय शाद अल हरीरी के समक्ष सबसे बड़ी चुनौती ऐसी कैबिनेट का गठन करना है जो सभी पक्षों को स्वीकार हो। इसमें हिजबुल्ला तथा ईसाई सहयोगी भी शामिल हैं। लेबनान में प्रधानमंत्री का पद सुन्नी मुसलमानों के लिए आरक्षित है।

हरीरी ने राष्ट्रपति से मुलाकात के बाद कहा कि वह एकजुट राष्ट्रीय सरकार के गठन का प्रयास करेंगे। इसमें देश के सभी पक्ष शामिल होंगे। हरीरी ने इसका वादा चुनाव प्रचार अभियान के दौरान किया था। सुन्नी मुसलमान हरीरी अपने प्रशासन को सुचारू रूप से चलाने के लिए शिया मुसलमानों से भी सहायता लेने का प्रयास करेंगे।

सऊदी अरब, पश्चिमी देश रफीक अल हरीरी की हत्या के बाद से ही शाद अल हरीरी के प्रबल समर्थक रहे हैं। शाद अल हरीरी का मानना है कि सीरिया ने उनके पिता की हत्या कराई है।

हरीरी के समक्ष शिया इस्लामिक गुट हिजबुल्ला को शस्त्रविहीन करने की भी चुनौती होगी। हिजबुल्ला को अमेरिका आतंवादी गुट मानता है तथा यह 1980 के दशक से इजरायल से संघर्ष कर रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:शाद अल हरीरी बने लेबनान के प्रधानमंत्री