class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राष्ट्रपति पहली बार देहरादून के दौरे पर

राष्ट्रपति प्रतिभा देवी सिंह पाटिल के स्वागत के लिए जिला प्रशासन तैंयारियों में जुट गया है। राष्ट्रपति बनने के बाद श्रीमति पाटिल पहली बार दून आ रहीं हैं। इस लिहाज से उनकी इस यात्रा को काफी अहम माना जा रहा है। शासन से हर दिन जिला प्रशासन को आवश्यक दिशा निर्देश जारी किए जा रहे हैं साथ ही तैंयारियों का भी जायजा लिया जा रहा है।


राष्ट्रपति श्रीमति प्रतिभा देवी सिंह पाटिल की यह पहली उत्तराखंड की यात्रा है। दो दिन देहरादून व मसूरी में बिताने के बाद वे बद्रीनाथ के दर्शन के लिए जाएंगी। इन दिनों जिला प्रशासन उनके स्वागत की तैंयारियों में जुटा है। विभिन्न विभागों के अधिकारियों को ड्यूटियां दी जा चुकीं हैं। शासन से भी आए दिन दिशा निर्देश जारी किए जा रहे हैं।


 अब तक के कार्यक्रम के अनुसार राष्ट्रपति 3 जुलाई को विशेष वायुयान से जौलीग्रान्ट पहुंचेंगी जहां से हैलीकाप्टर द्वारा जीटीसी हैलीपैड पहुंचेंगी। संभावना जताई जा रही है कि अगर मौसम खराब होता है तो उनका काफिला सड़क मार्ग से दून पहुंचेगा। इसके चलते जिलाधिकारी अमित सिंह नेगी ने जौलीग्रान्ट से देहरादून तक राष्ट्रीय राजमार्ग की मरम्मत करने के लिए अधिशासी अभियंता को पत्र लिखा है। 3 जुलाई को श्रीमति पाटिल राजभवन में रात्री विश्राम करेंगी। 4 जुलाई को वह सुबह मसूरी स्थित लाल बहादुर शास्त्री प्रशासनिक एकेडमी में एक कार्यक्रम में शिरकत करेंगी। शाम को वापिस राजभवन पहुंचेंगी। अगली सुबह वह बद्रीनाथ दर्शन के लिए रवाना होंगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:राष्ट्रपति पहली बार देहरादून के दौरे पर