class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आयकर रिटर्न फाइल करने के तरीके

तीन तरीकों से आयकर रिटर्न फाइल किया जा सकता है

फिजिकलः यह रिटर्न फाइल करने का परंपरागत तरीका है। इस फॉर्म को भरने के बाद इसकी रसीद लें।

लागतः बिल्‍कुल नहीं से लेकर 500 रुपए तक। यह इस पर निर्भर करता है कि यह टैक्सपेयर ने बनाया है या किसी सीए ने।

ऑनलाइन+फिजिकलः आप फॉर्म को किसी टैक्स पोर्टल में भर सकते हैं और इसे ऑनलाइन जमा कर सकते हैं। आप प्राप्ति का प्रिंटआउट ले सकते हैं और इसे कलेक्शन ऑफिस में जमा कर दें।

लागतः 250-500 रुपए। यह इस पर निर्भर करता है कि आप कौन सा फॉर्म भर रहे है।

ऑनलाइनः आप फॉर्म को आनलाइन भर सकते हैं। आप एक्सएमएल फाइल बनाकर इसे डिजिटल सिग्नेचर के साथ जमा कर सकते हैं।

लागतः 500-1000, यह पोर्टल और फॉर्म पर निर्भर करता है।

किसमें है छूट

सेक्शन 80 सी में निवेश
पीपीएफ, पीएफ, एनएससी, पांच वर्ष की एफडी, ईएलएसएस म्यूचुअल फंड, यूलिप, पेंशन प्लान, लाइफ इंश्योरेंस, दो बच्चों की स्कूल फीस।

मेडिकल इंश्योरेंस
15,000 रुपए तक का प्रीमियम स्वयं, पत्नी या बच्चों के लिए वर्ष में टैक्स से मुक्त होता है।

होम लोन ब्याज
अगर घर में आप रहते हैं, तो 1.5 लाख तक का ब्याज पूरी तरह से कर मुक्त होता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आयकर रिटर्न फाइल करने के तरीके