class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शनिवार को स्वदेश लौटेंगे राव, विधायक पहुंचेंगे दिल्ली, 32 ने हस्ताक्षर किया, 40 की सूची लेकर जायेंगे नियेल

कांग्रेस के झारखंड प्रभारी डॉ के केशव राव ब्राजील की यात्रा से 27 जून को स्वदेश लौटेंगे। इसके बाद झरखंड में यूपीए की सरकार बनाने की कवायद एक बार फिर तेज होगी।

कांग्रेस आलाकमान ने विधायकों को जो होमवर्क दिया था, उसे पूरा कर लिया गया है। विधायक नियेल तिर्की कहते हैं कि सरकार बनाने के समर्थन में 32 विधायकों ने हस्ताक्षर कर दिया है।

शनिवार तक सात-आठ और विधायकों का हस्ताक्षर करा लिया जायेगा। यहां से 40 विधायकों की हस्ताक्षरित सूची लेकर दिल्ली जाने की योजना है, ताकि आलाकमान को बता सकें कि यूपीए के पास मैजोरिटी है।

आलाकमान ने एकता दिखाने का निर्देश दिया था। विधायकों ने राज्यसभा चुनाव और उसके बाद भी एकता दिखायी है। विधायकों का जत्था दो दिन के भीतर दिल्ली पहुंच जायेगा।

28 जून को सोनिया गांधी के राजनीतिक सलाहकार अहमद पटेल भी दिल्ली पहुंच जायेंगे। सरकार बनाने के मुद्दे पर प्रथम चरण में पटेल और राव के बीच वार्ता होगी। इसके बाद विधायकों का पक्ष सुना जायेगा।

वैसे कहा जा रहा है कांग्रेस आलाकमान झारखंड में सरकार बनाने के मूड में नहीं है, लेकिन सूबे के यूपीए के अधिकांश विधायक सरकार गठन को लेकर बहुत उतावले हैं।

झामुमो सुप्रीमो शिबू सोरेन के पुत्र सह सांसद हेमंत सोरेन ने भी स्पष्ट कहा है कि सरकार नहीं बनी, तो गठबंधन धर्म निभाना मुश्किल होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:झारखंड में सरकार बनाने की कवायद होगी तेज