class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मायावती की मूर्तियों पर चलेगा बुलडोजर : मुलायम

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम ¨सह यादव ने कहा कि प्रदेश सरकार डरी हुई है। आनन-फानन में प्रतिमाओं का अनावरण किया गया। सरकार पैसा कमाने, कमीशनबाजी में जुटी है। विरोधियों पर एनएसए तामील हो रहे हैं। इससे यूपी में आपातकाल जैसे हालात बन गए हैं।

उन्होंने कहा कि सपा के सत्ता में आने पर सरकारी खर्च से लगाई गई मायावती की प्रतिमाओं पर बुलडोजर चलेगा। लोकतंत्र सेनानियों को 10 हजर रुपया मासिक सम्मान पेंशन दी जाएगी। वह शुक्रवार को गांधी भवन सभागार में लोकतंत्र सेनानियों के सम्मेलन में मुख्य अतिथि के रूप में बोल रहे थे।

सपा प्रमुख ने कहा कि इमरजेंसी के खिलाफ लोकतंत्र सेनानियों का संघर्ष आजदी की दूसरी लड़ाई के समान था। अगर उस समय इन सेनानियों ने संघर्ष नहीं किया होता तो आज बसपा सरकार को सत्ता तक पहुँचने का मौका ही नहीं मिलता। मगर बसपा प्रमुख तानाशाही का राज चला रही हैं। गुण्डे, माफिया बसपा में शामिल हो गए हैं। बिजली, पानी के लिए त्राहि-त्राहि मची हुई है। अपराधों की बाढ़ आ गई है। आवाम असुरक्षित महसूस कर रहा है। सरकार पैसा कमाने और कमीशनबाजी में जुटी है। 

श्री यादव ने कहा कि पत्थरों के प्रदूषण से भी लखनऊ का तापमान बढ़ रहा है। स्मारकों के आसपास ऊँचाई पर तालाब बन रहे हैं, जिसमें पानी कैसे आएगा? यह समझना मुश्किल है।  उन्होंने कहा कि मायावती ने जो रुपए पार्कों एवं मूर्तियों पर खर्च किए है उसको मूलभूत सुविधाओं पर खर्च किया जाता तो प्रदेश की जनता को इसका लाभ होता।
 सपा सांसद रेवती रमण ¨सह व पूर्व मंत्री अशोक बाजपेयी ने भी लोकतंत्र सेनानियों को संबोधित किया। इससे पहले लोकतंत्र सेनानी कल्याण परिषद के अध्यक्ष व पूर्व विधायक रविदास मेहरोत्रा, विजय सिन्हा, कृष्णदत्त मिश्र, भारत त्रिपाठी, वीरेन्द्र यादव समेत कई लोगों ने सपा प्रमुख मुलायम ¨सह यादव और दूसरे नेताओं का स्वागत किया। परिषद ने फैसला लिया है कि लोकतंत्र सेनानियों की रोकी गई पेंशन दिलाने, सेनानियों की समस्याओं को लेकर 9 अगस्त को विधान भवन के सामने धरना दिया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मायावती की मूर्तियों पर चलेगा बुलडोजर : मुलायम