class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ग्रामीणों में तनाव कथित हीरा पाने वाले तीन लोग गांव से फरार

पन्नूगंज थाना क्षेत्र के भड़कना गांव में हीरा मिलने की चर्चा के साथ ही गांव में तनाव उत्पन्न हो गया है। जिन तीन लोगों को हीरा मिला है वे गांव से फरार हो गये हैं। इसबीच कुछ ग्रामीणों ने मांग की है कि इस बात की जांच करायी जाये कि पायी गयी वस्तु हीरा ही है या कुछ और। क्षेत्र पंचायत सदस्य ने इसकी सूचना पन्नूगंज पुलिस को दी, लेकिन पुलिस ने ऐसी किसी जानकारी से इनकार किया है।

इस समय भड़कना गांव से भगवानपुर गांव तक सम्पर्क मार्ग का निर्माण चल रहा है जिसमें पचास से अधिक मजदूर कार्य कर रहे हैं। गत 19 जून को मजदूर सड़क पर मोरंग को बिछा रहे थे तो सहदेइयां गांव के राम नारायण (काल्पनिक नाम)को त्रिशूल के आकार की एक चमकती हुई चीज मिली। उसने भड़कना गांव के दो श्रमिकों को इस चीज को देखने के लिए दिया। इसके बाद पानी भरे शीशे के गिलास में डालकर उसका परीक्षण किया जाने लगा।

चर्चाओं के अनुसार उस वस्तु को शीशे के गिलास में डालते ही शीशा टूटकर चूर हो गया। इससे तीनों आश्वस्त हो गये कि पायी गयी वस्तु हीरा ही है और वे उसी दिन गांव छोड़कर फरार हो गये। इसके बाद यह बात आसपास के गांवों में भी फैल गयी। शुक्रवार को भड़कना के बलिराम विश्वकर्मा, राजराम, महेश, रमेश, राजकुमार, रामवृक्ष, गुड्डू आदि का कहना था कि गांव में हीरा पाये जाने की चर्चा तो है, किन्तु उन लोगों ने अपनी आंख से हीरा नहीं देखा है।

भड़कना के क्षेत्र पंचायत सदस्य भगवती शरण पांडेय भी शुक्रवार को गांव में पहुंचे और लोगों से इस बारे में जानकारी लेने के बाद पन्नूगंज थाना पुलिस को लिखित सूचना देकर कार्रवाई करने की मांग की ताकि लोगों का भ्रम दूर हो सके।

इसबीच गांव में हीरा पाये जाने की चर्चा के बाद तनाव इस कदर बढ़ गया है कि लोग आपस में ही विवाद कर ले रहे हैं और एक-दूसरे को देख लेने की धमकी दे रहे हैं। इसबीच पुलिस का कहना है कि उसे ऐसी किसी बात की जानकारी नहीं है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सोनभद्र के गांव में हीरा मिलने से सनसनी