class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्रदेश सरकार की कवायद से अभिभावक खुश

फीस वृद्धि रोकने की प्रदेश सरकार की कवायद से अभिभावक खुश हैं। अभिभावकों का कहना है कि पहली बार प्रदेश स्तर पर पब्लिक स्कूलों पर लगाम की शुरुआत हुई है। अगर दो साल तक फीस नहीं बढ़ाने के फैसले पर अमल हुआ तो इससे स्कूलों की मनमानी रुक जाएगी।

प्रदेश सरकार ने पब्लिक स्कूलों की मनमानी रोकने के लिए पहले हाई पावर कमटी का गठन किया था। अब सरकार मंडल स्तर पर एक कमेटी बनाएगी। इसके अलावा दो साल तक फीस न बढ़ाने का भी फैसला लगभग हो चुका है। डीएलएफ पैरेंट्स एसोसिएशन के विनीत बजाज कहते हैं कि ऐसा फैसला जनता के हित में होगा।

दरअसल पब्लिक स्कूल जिला प्रशासन के आदेश भी नहीं मानता। कई पब्लिक स्कूलों ने प्रशासन की दखल के बाद भी अपनी फीस तय नहीं की है। ऐसे में प्रदेश सरकार ही इन पर लगाम लगा सकती है।

अभिभावक अनुराग कहते हैं कि इस तरह का शासनादेश आने पर स्कूलों की मनमानी रूक जाएगी और यह फैसला स्वागत योग्य है। करीब चार माह से अभिभावक आंदोलन कर रहे हैं। अब प्रदेश सरकार के इस फैसले से उन्हें राहत मिलने की उम्मीद है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:फीस नहीं बढ़ाने का फैसला सही