class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ओवरलोडिंग ने ध्वस्त किया ट्रांसमिशन का शेडयूल

ओवरलोडिंग की मार के सामने रोजाना पावर कारपोरेशन का रोस्टिंग शेड्यूल दम तोड़ रहा है। हालात यह है कि डिमांड व सप्लाई के खेल में पावर कारपोरेशन शहरवासियों को बिजली नहीं दे पा रहा है। शहर की सप्लाई को निर्बाध रुप से चलाने और सब स्टेशनों को ट्रिप होने से बचाने के लिए पावर कारपोरेशन लोकल रोस्टिंग का शेड्यूल तैयार करता है। जिसमे पूरे शहर को रोटेशनल बेसिस पर बिजली दी जाती है।

जिसमें एक इलाके की कटौती आठ घंटे से ज्यादा न किए जाने का शेड्यूल होता है। लेकिन तपती गर्मी से बढ़ी बिजली की मांग के सामने सभी उपाय फेल हो गए हैं। ट्रांसमिशन के अधिकारियों के मुताबिक लोकल फाल्ट, ओवर लोडिंग के चलते लोकल रोस्टिंग का शेडच्यूल कारगर नहीं हो पा रहा है।

पावर अधिकारियों ने बताया कि अभी तक दो दजर्न बार रोस्टिंग का शेडच्यूल बनाया जा चुका है। एक दो दिन तो बिजली शेडच्यूल के हिसाब से मुहैया करा दी जाती है। मगर सब स्टेशनों के ट्रिप होने की वजह से रोस्टिंग का शेडच्यूल चल नहीं पाता।

एक्सईएन एम.एन श्रीवास्तव ने बताया कि बीते दिनों विद्युत व्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए लखनऊ कंट्रोल ने रोस्टिंग की पावर लोकल स्तर पर दे दी थी, इसके लिए ट्रांसमिशन व डिस्ट्रीब्यूशन ने साझ तौर पर रोस्टिंग का शेडच्यूल तैयार किया था। लेकिन डिमांड बढ़ने की वजह से वह कारगर नहीं हो पाया। इसके बाद कई बार बदल बदलकर रोस्टिंग का शेडच्यूल तैयार किया गया, लेकिन वह भी डिमांड के सामने फेल हो गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ओवरलोडिंग ने ध्वस्त किया ट्रांसमिशन का शेडयूल