class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जालसाज करने वाला नटवरलाल गिफ्तार

रिटायर्ड फौजियों को नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने वाले एक जालसाज को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। अभियुक्त का नाम अशोक कुमार कौशिक है। वह बाबरपुर कालोनी का रहने वाला है। अब तक वह अनेक फौजियों को अपना शिकार बना चुका था।


जाट रेजीमेंट से रिटायर सूबेदार सीताराम ठाकुर शिमला में रहते है। गत 14 जून को उन्होंने एक दैनिक समाचार पत्र में विज्ञापन पढ़ने के बाद उसमें दिए गए मोबाइल पर फोन किया था। जिस व्यक्ति से उन्होंने बातचीत की उसने कहा कि वह इंडिया गेट के पास बीकानेर हाउस पर उसे मिले। सीताराम ठाकुर वहां पहुंचे तो उन्हें एक व्यक्ति मिला उसने कहा कि वह रिटायर फौजियों को नौकरी दिलाता है और एडवांस के तौर पर उनसे 25 हजार रुपये लेता है। उसने सीताराम से भी 25 हजार रुपये लिए और कहा कि वह बीकानेर हाउस में अपने साहब से मिल कर आता है। इसके बाद वह गायब हो गया। सूबेदार ने इस संबंध में तिलक मार्ग थाने में धोखाधड़ी का मामला दर्ज कराया।
जलसाज को पकड़ने के लिए पुलिस ने सीताराम से उसी मोबाइल पर फोन कराया और इस बार उसने अपना नाम कुछ और बताया। जालसाज ने उससे कहा कि वह कश्मीरी गेट पर आकर उससे मिले। जब अशोक कुमार वहां पहुंचा तो सीताराम ने उसे पहचान लिया और पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जालसाज करने वाला नटवरलाल गिफ्तार