class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

साइंस एंड टेक्नॉलाजी विभाग देगा इसको अंजाम, कालोनियों का होगा सर्वे

सेटेलाइट से शहर की अवैध कालोनियों की तस्वीर खींची जाएगी। जिसके आधार पर प्रत्येक कालोनी का फिजिकल सर्वे किया जाएगा। नगर निगम के साथ मिलकर साइंस एंड टेक्नालॉजी विभाग का स्टॉफ इस कार्य को अंजाम देगा। जल्द ही कार्रवाई शुरू होगी।

हिसार स्थित साइंस एंड टेक्नालॉजी विभाग के दफ्तर में अर्बन लोकल बाडी के निदेशक के साथ वीरवार को हुई स्थानीय निकाय के अफसरों की बैठक में यह फैसला किया गया। अवैध कालोनियों को पक्का करना इसका एजेंडा था। फरीदाबाद नगर निगम की तरफ से  चीफ टाउन प्लानर एससी कुश ने इसमें हिस्सा लिया।

यहां उपस्थित स्थानीय निकायों के अफसरों ने अपने क्षेत्र की अवैध कालोनियों की रिपोर्ट दी। फरीदाबाद की 51 अवैध कालोनियों का रिकार्ड चीफ टाउन प्लानर ने निदेशक को सौंपा। इनको नियमिति करने की बाबत पहले की कार्रवाई रिपोर्ट भी दिखाई। तीन वर्ष पहले सरकार को रिपोर्ट भेजी थी।

निदेशक ने कालोनियों का दोबारा खाका तैयार करने का फैसला किया है। साइंस एंड टेक्नालॉजी विभाग को इसकी जिम्मेदारी सौंपी है। इसकी टीम सेटेलाइट से कालोनियों की तस्वीर खींचेगी। इसके आधार पर निगम के साथ मिलकर फिजिकल सर्वे किया जाएगा। कालोनियों की सीमाओं की जानकारी निगम के अफसर सर्वे टीम को देंगे।

बाकी उनकी भौगोलिक स्थिति, कितना रिहायश का रकबा है, मकान कितने हैं, पानी-बिजली की सुविधा, सड़कों की दशा, नाली-सीवरेज आदि बिंदुओं पर सर्वे होगा। ताकि पास करने से पहले मूलभूत सुविधाएं मुहैया करवाई जा सकें। इससे कालोनियों को पास करने में कानूनी अड़चन भी नहीं आएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सेटेलाइट से खींची जाएंगी अवैध कालोनियों की तस्वीर