class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

व्यापार कर के सभी चेकपोस्ट समाप्त

उत्तर प्रदेश में व्यापारियों के व्यापक हितों को ध्यान में रखते हुए प्रदेश सरकार ने व्यापार कर के सभी चेकपोस्टों को समाप्त करने का निर्णय लिया है।

मुख्यमंत्री मायावती की अध्यक्षता में गुरुवार को मंत्रिपरिषद की बैठक में इस आशय का निर्णय लिया गया। मायावती ने पत्रकारवार्ता में कहा कि प्रदेश में पहले से चल रहे 83 चेक पोस्टों में घटोत्तरी करके केवल 37 चेक पोस्टें ही रखी गई थीं लेकिन आज इन सभी को भी समाप्त करने का निर्णय लिया गया। उ.प्र. ने दावा किया कि इससे व्यापारियों और लोगों को होने वाली असुविधा दूर होगी तथा कारोबार अब काफी सुविधाजनक हो जाएगा। इसके साथ ही भ्रष्टाचार की शिकायतें एवं व्यापारियों का उत्पीड़न भी समाप्त होगा।

उन्होंने बताया कि व्यापारियों के लिए फार्म 38 और बहती की व्यवस्था को संशोधित करके उसे वेबसाइट आधारित करने का निर्णय लिया है। अब फार्म 38 लेने और उसे कार्यालय में फिर जमा करने के लिए व्यापारियों को व्यापार कर कार्यालय के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे। इस नई व्यवस्था में व्यापारी घर बैठे ही फार्म 38 डाउनलोड कर सकते हैं। सीएम ने बताया कि इसी तरह से बहती से जो कर की चोरी होती थी। उसे रोकने के लिए बहती को भी वेब आधारित करने का निर्णय लिया गया है अर्थात बहती भी अब व्यापारी घर बैठे डाउनलोड कर सकते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:व्यापार कर के सभी चेकपोस्ट समाप्त