class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

असम में बंद से जनजीवन प्रभावित

उत्तर-पूर्वी राज्य असम में दो अलगाववादी संगठनों द्वारा आयोजित बंद से जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ है। युनाइटेड लिबरेशन फ्रंट ऑफ असम (उल्फा) द्वारा आयोजित इस बंद को नेशनल डेमोक्रेटिक फ्रंट ऑफ बोडोलैंड (एनडीएफबी) का समर्थन है।

सुरक्षा बलों द्वारा भारी संख्या में कथित तौर पर विद्रोहियों की हत्याओं के विरोध में उल्फा ने 12 घंटे के राज्यव्यापी बंद का आह्वान किया है। बंद का असर इस कदर देखा गया कि सड़कों से गाड़ियां पूरी तरह नदारद रही, दुकानें व व्यापारिक प्रतिष्ठान बंद रहे और स्कूलों व सरकारी कार्यालयों में ताले जड़े रहे। पुलिस के एक प्रवक्ता ने कहा, ‘‘अभी किसी अप्रिय घटना की जानकारी नहीं मिली है।’’

ज्ञात हो कि सुरक्षा बलों ने पिछले तीन महीनों में उल्फा, एनडीएफबी और दिमा हलाम दाओगह (डीएचडी) के 50 अलगाववादियों को मार गिराया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:असम में बंद से जनजीवन प्रभावित