class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिहार में अभियंताओं ने हड़ताल स्थगित की

बिहार के सीतामढ़ी के पथ निर्माण विभाग के कार्यपालक अभियंता योगेन्द्र पांडेय की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत की जांच केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) से कराने के सरकार के फैसले के बाद अभियंताओं ने गुरुवार से अपनी हड़ताल स्थगित कर दी। हालांकि अभियंता कार्य का बहिष्कार जारी रखेंगे।

राज्य गृह विभाग के प्रधान सचिव अफजल अमानुल्लाह ने बताया कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस मामले की जांच सीबीआई से कराने के लिए हरी झंडी दे दी है।

इधर, बिहार अभियंत्रण सेवा संघ (बेसा) के महासचिव राजेश्वर मिश्रा ने गुरुवार को बताया कि बुधवार की देर रात अभियंताओं की गृह विभाग के प्रधान सचिव के साथ हुई बैठक के बारे में जनकारी अभियंताओं को दी गई। इसके बाद देर रात हुई अभियंताओं की बैठक में हड़ताल पर नहीं जने का निर्णय लिया गया। हालांकि उन्होंने कहा कि यह हड़ताल एक जुलाई तक टाली गई है, परंतु अभियंताओं का कार्य बहिष्कार जरी रहेगा।

ज्ञात हो कि पिछले गुरुवार को सीतामढ़ी जिले के समाहरणालय (जिलाधिकारी कार्यालय) भवन की तीसरी मंजिल से कूदकर पथ निर्माण विभाग के कार्यपालक अभियंता योगेन्द्र पांडेय ने जान दे दी थी। उनके जेब से पुलिस ने एक सुसाइड नोट बरामद किया था जिसमें लिखा था,मैं विभाग में काम करने के लायक नहीं हूं। विभाग भी मुझे नाकाम अधिकारी समझता है, इस कारण मुझे जीने का हक नहीं है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बिहार में अभियंताओं ने हड़ताल स्थगित की