class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

न कंघी, न खिजाब

चूंकि मैं खुद उस हालत को पहुंच चुका हूं, सो गंजत्व के प्रति मेरे मन में घनघोर आस्था है। किसी गंजे के देखता हूं तो मन में एक अनुरागी लहर उठती है कि अगला भी अपनी हेडलाइट के मामले में अपन जैसा ही है। कुछ रिसर्चकारों ने आंकड़े निकाले हैं कि विश्व में 32.8 प्रतिशत गंजी विभूतियां हैं। हिन्दी व्यंग्य साहित्य में स्वर्गीय शल चतुव्रेदी से लेकर भाई सूर्यकुमार पांडेय तक सब की चंदिया, मंच की लाइट में दमदमाती रही है। नई बनी सड़क जैसी चिकनी चांद वाले यशस्वी लोग भरे पड़े हैं, साहित्य में अनुपम खेर नुमा। बुद्धि और अधिक प्रखर हो जाती है, सिर पर खर पतवार हट जाने के बाद। पानी की एक बूंद पड़ जाए तो मीलों फिसलती चली जाए। न कटिंग सैलून का खर्च, न शम्पू, तेल, कंघी का। सिर के जूं से भी निजात। बेचारा सपाट रेगिस्तान में रहेगा क्या? सिर पर हल्का सा गीला पोंछा फेर लिया और बनावट संगेमरमर के फर्श जैसी चमक उठी। गंजत्व छुपाने के लिए सिर पर टोपी या पी कैप का ढक्कन ढकने वालों से मुझे चिढ़ है। खुदा की देन को नकारना यों भी पाप है। जूं विहीन चंदिया का डिस्प्ले होता रहे।

हालिया चुनावों के बाद कितने ही दीन दुखियों की आत्मा तक गंजी हो गई है। क्या क्या ख्वाब देखे थे, क्या क्या ताबीरें हासिल हुई हैं। कैबिनेट की फोटो में कई गंजे हैं..अपने भी जीतकर लाइन में आ जाते तो गंजेपन से बचे रहते। जिनकी जमानत जब्त हो गई उनका नाम लेवा कोई गंज तक न बचा।

गंजत्व के मामले में अमेरिका की नीति अनुकरणीय है। पाकिस्तान और तालिबान। लड़ते-लड़ते दोनों गंजे हो जाएं तब अमेरिका समर्थन का हाथ टकले सिर पर फेरेगा। फिलहाल लड़ते रहो और गारत हो जाओ। उनकी यही नीति रही है कि अपने अलावा सबको गंज देखना।

गंजेपन से निजात दिलाने की दवाओं के विज्ञापन खूब छपते हैं। साथ में किसी के दो फोटो छपते हैं। गंज और सरसब्ज खोपड़ी वाला। दवा से पहले, दवा के बाद। या खुदा, गंजी खोपड़ी पर छोटे-छोटे बाल उग आने के बाद खोपड़ी किसी नई पौध के खेत जैसी नजर आएंगी। कितनों की महबूबाएं बिदक जाती होंगी कि तुम तो गंजे ही अच्छे लगते थे। सिर पर नकली फसल उग आने पर और भी कुलाउड्ड लगते हो।

विश्व स्तर के गंजेपन पर पूरी थीसिस किसी गंजे द्वारा शायद लिखी जा रही हो। एक स्लोगन होगा- दुनिया के गंजों सिर पर से रुमाल हटा कर एक हो जाओ। हमारी प्रखर बुद्धि ही अंधेरे में रोशनी जैसा कुछ दे सकती है। बाल्डीज (गंजे) आप सचमुच ग्रेट हो। आमीन।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:न कंघी, न खिजाब