class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इस बार 99 छक्के कम लगे

इस बार 99 छक्के कम लगे

इंग्लैंड में इस साल खेले गए टी-20 विश्व कप के दूसरे संस्करण में दो साल पहले दक्षिण अफ्रीका में हुए टूर्नामेंट के पहले संस्करण की तुलना में 99 छक्के कम लगे। पहले संस्करण में बल्लेबाजों ने कुल 265 छक्के उड़ाए थे जबकि इस बार उनके बल्लों से सिर्फ 165 छक्के निकले।

टीमों की बात करें तो पाकिस्तानी बल्लेबाजों ने सात मैचों में सर्वाधिक 21 छक्के लगाए जबकि भारतीय और दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाजों के बल्लों से 19-19 छक्के निकले। युवराज सिंह 2009 विश्व कप में सबसे अधिक नौ छक्के लगाने वाले बल्लेबाज रहे।

टूर्नामेंट में इस साल कुल 668 चौके लगे। इसमें से 121 चौके श्रीलंकाई बल्लेबाजों के नाम हैं जबकि दक्षिण अफ्रीकी टीम 87 चौकों के साथ दूसरे स्थान पर रही। दो साल पहले पहले संस्करण के दौरान 659 चौके लगे थे।

श्रीलंका और वेस्टइंडीज ऐसी टीमें हैं जिनके खिलाफ सबसे अधिक छक्के लगे। दोनों टीमों के गेंदबाजों ने 21-21 छक्के लुटाए जबकि पाकिस्तानी गेंदबाजों ने सात मैचों में सबसे कम 13 छक्के दिए।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:इस बार 99 छक्के कम लगे