class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सरकार की प्राकृतिक गैस के दाम 17 फीसद बढ़ाने की योजना

सरकार की प्राकृतिक गैस के दाम 17 फीसद बढ़ाने की योजना

सरकार ओएनजीसी और ऑयल इंडिया द्वारा उत्पादित प्राकृतिक गैस की कीमतों में 17 प्रतिशत की वद्धि पर विचार कर रही है। 

गैस की कीमतों को मुद्रास्फीति (बाजार में मंहगाई के स्तर) के साथ जोड़ सकती है, जिससे दोनों कंपनियों को लागत से कम मूल्य पर ईंधन बेचने के कारण हो रहे घाटे की भरपाई हो सके।

पेट्रोलियम मंत्रालय ने प्राकृतिक गैस के दाम बढ़ाने के लिए मसौदा प्रस्ताव तैयार कर लिया है। इसके तहत ओएनजीसी द्वारा उत्पादित गैस का दाम 3,200 रुपये से बढ़कर 3,765 रुपये करने का प्रस्ताव है।

मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि ओआईएल के लिए गैस का दाम 4,205 रुपए किए जाने का प्रस्ताव है। वर्तमान में ओएनजीसी को बासेन और मुंबई हाई जैसे गैस क्षेत्रों से सरकार द्वारा तय कीमत पर गैस की बिक्री से सालाना 3,000 करोड़ रुपए कोटा हो रहा है। 

उन्होंने कहा कि कैबिनेट नोट तैयार किया जा चुका है और पेट्रोलियम मंत्री मुरली देवड़ा की मंजूरी के बाद इसे वितरित किया जाएगा। अधिकारी ने कहा कि इस बात की संभावना है कि यह प्रस्ताव मंत्रिमंडल के समक्ष अगले माह जाएगा। 
     

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बढ़ सकते हैं प्राकृतिक गैस के दाम