class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डाटाबेस

डाटाबेस सूचनाओं को एकत्रित करके उनको इस तरह व्यवस्थित करता है कि उन्हें आसानी से एक्सेस, मैनेज और अपडेट किया जा सके। उदाहण के तौर पर किसी कंपनी द्वारा इसका इस्तेमाल अपने प्रोडक्ट, कर्मचारी और आíथक स्थिति की जानकारी देने के लिए होता है।

कंप्यूटर डाटाबेस स्टोर किए गए डाटा को व्यवस्थित करने के लिए पूरी तरह निर्भर होता है। यह सॉफ्टवेयर डाटाबेस मैनेजमेंट सिस्टम के नाम से जना जाता है। डाटाबेस मैनेजमेंट सिस्टम को डाटाबेस मॉडलों के आधार पर श्रेणीबद्ध किया जाता है। मॉडल यह सुनिश्चित करता है कि सर्च के लिए कौन सी लैंग्वेज का इस्तेमाल किया जाए।

डाटाबेस शब्द का इस्तेमाल टाइटल डेवलपमेंट ऐंड मैनेजमेंट ऑफ ए कंप्यूटर सेंटर्ड डाटाबेस ने अपने सिंपोजियम में किया था। 1970 में डाटाबेस शब्द यूरोप में खासा प्रचलित था और इस दशक के अंत में इस शब्द का अखबारों में खूब इस्तेमाल होने लगा था। पहले डाटाबेस मैनेजमेंट सिस्टम को 1960 में विकसित किया गया था। चाल्र्स बैचमैन को इसका जनक माना जाता है।

इससे पहले डाटाबेस के लिए पंचिंग कार्ड और मैग्नेटिक टेप का इस्तेमाल किया जाता था। डाटाबेस को उसके कंटेंट के आधार पर विभिन्न कैटेगरी बिबलियोग्राफिक, फुल टेक्स्ट, न्यूमेरिक और इमेज  में बांटा जाता है। कंप्यूटिंग में डाटाबेस को उसकी ऑर्गेनाइजेशनल एप्रोच के आधार पर वर्गीकृत किया जता है। वर्तमान में प्रचलित डाटाबेस मॉडल रिलेशनल इस मामले में सौ फीसदी फिट बैठता है। टेबुलर डाटाबेस में डाटा के बारे में बताया जता है ताकि इसे पुन: व्यवस्थित किया ज सके और विभिन्न तरीकों से एक्सेस किया जा सके।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:डाटाबेस