class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

खुद को तवज्जो दें

क्या आपको लगता है कि ऑफिस में आपको तवज्जो नहीं दी जाती? या आपके काम को मान्यता नहीं मिलती, और प्रमोशन के वक्त आपकी अनदेखी कर दी जाती है? तो दिल छोटा न करिए। याद रखिए, जब तक आप खुद स्वयं को तवज्जो नहीं देंगे, तब तक आपको कोई भी अहमियत नहीं देगा। इसलिए अपनी कीमत पहचानिए।

अपने वजूद को साबित कीजिए। ये पुरानी कहावत तो आपने भी सुनी होगी, कि भगवान भी उन्हीं की मदद करता है, जो खुद अपनी मदद करते हैं। बहरहाल, यहां हम कुछ ऐसे तरीके बता रहे हैं जिनसे आप अपनी अहमियत साबित कर सकते हैं-

अतीत पर नजर डालें: अगर आप गहराई से अपने पिछले दिनों के कामकाज और व्यवहार पर नजर डालेंगे, तो समझ जाएंगे कि आप अपने सहकर्मियों और अधिकारियों के बीच अब तक मान्यता क्यों हासिल नहीं कर पाए? आप खुद ही समझ जाएंगे कि आपने अब तक अपने आपको कोई अहमियत नहीं दी, और इसी का परिणाम है कि आप आज उपेक्षा की स्थिति में हैं। 

- खुद को अहमियत दें: अगर कोई और नहीं समझता, तो कोई बात नहीं, आप तो अपनी वल्यू समझिए। इसके बाद सभी आपकी अहमियत समझने लगेंगे। क्योंकि अहमियत भी एक संक्रामक प्रवृत्ति है। आप अपने काम को अहम समझेंगे, तो सभी को उसकी कीमत समझ में आने लगेगी। अपना आत्मविश्वास बुलंद रखें। खुद को किसी से कमतर न समझें। जरा सोचिए, अगर आपकी अहमियत नहीं है, तो आपको ऑफिस में रहने क्यों दिया जा रहा है?

थोड़ा आडम्बर करें: आपका ऑफिस इतना बड़ा है, और आप चुपचाप सिर झुकाए अपना काम करते रहेंगे, तो कोई आपकी मौजूदगी का अहसास कैसे करेगा? इसलिए जरा अपने काम का ढोल पीटने की आदत भी बनाइए।  

गंभीरता ओढ़ें: आत्मविश्वास कम न होने दें। खुद को गंभीरता से लें। जीवन का मकसद तय करें, और फिर आगे बढ़ें। तब सब आपको भाव देंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:खुद को तवज्जो दें