class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हजकां-बसपा गठबंधन सरकार मुंगेरी लाल के हसीन सपने जैसा : कांग्रेस

हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सुप्रीमो मायावती और हरियाणा जनहित कांग्रेस(हजकां) नेता और सांसद भजनलाल के अगले विधानसभा चुनावों के बाद राज्य में बसपा-हजकां गठबंधन की सरकार बनने के दावों को हास्यास्पद बताया है।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता वेद प्रकाश विद्रोही ने एक बयान में कहा कि उक्त दोनों दलों के गठबंधन का सरकार बनाने का दावा मुंगेरी लाल के हसीन सपने से कम नहीं हैं। उन्होंने कहा कि दोनों ही दल हाल के लोकसभा चुनावों में (दलित प्रधानमंत्री और गैरजाट) का कार्ड खेल चुके हैं और चुनाव परिणामों से साफ है कि दोनों दलों को इसमें मुंह की खानी पड़ी है।

उन्होंने बसपा-हजकां गठबंधन को अवसरवादी, सिद्धांतहीन और भ्रष्ट दलों का गठबंधन बताया और दावा किया कि राज्य का जागरूक मतदाता इसे कोई महत्व नहीं देगा। विद्रोही ने कहा कि मायावती का दलित प्रधानमंत्री का गुब्बारा फूट चुका है क्योंकि अन्य राज्यों में समर्थन तो दूर की बात हाल के लोकसभा चुनावों में उन्हें उत्तर प्रदेश की जनता ने भी नकार दिया है जहां की वह मुख्यमंत्री हैं। इसी तरह हजकां को भी मतदाताओं ने हरियाणा में लोकसभा चुनावों में जमीन दिखा दी है।

उन्होंने दावा किया कि राज्य विधानसभा चुनावों में मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा की निजी साख और उनके नेतृत्व वाली सरकार के विकास और जनकल्याण कार्यों की बदौलत कांग्रेस का मतप्रतिशत बढ़ेगा जबकि विपक्ष का एकबार फिर सूपड़ा साफ होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हजकां-बसपा गठबंधन सरकार मुंगेरी लाल के हसीन सपने