class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

साहिबाबाद के शालीमार की घटना, पुलिस ने सवा माह बाद दर्ज की रिपोर्ट

साहिबाबाद थाना क्षेत्र में आधा दजर्न लोगों ने एक युवक को जबरन कार में डाल कर उससे मारपीट की व साढ़े तीन लाख रुपए का डिमांड ड्राफ्ट, चैक व एटीएम आदि अपने कब्जे में ले लिया। उक्त ड्राफ्ट को कैश भी करा लिया गया।

शिकायत के बावजूद पुलिस ने उसकी रिपोर्ट तक दर्ज नहीं की। वह कई दिनों तक वह साहिबाबाद व कविनगर थाने के चक्कर काटता रहा लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुयी। बाद में एसएसपी के आदेश पर साहिबाबाद पुलिस ने पीड़ित की रिपोर्ट दर्ज की है। विक्रम एन्क्लेव निवासी सुनील कुमार का अश्‍वनी श्रीवास्तव के साथ पार्टनरशिप में सीएफएल का कारोबार है।

सुनील के मुताबिक 13 मई को वह शालीमार गार्डन निवासी अश्‍वनी से तीन लाख चालीस हजर का ड्राफ्ट, एटीएम व दो चैक लेकर बैंक जा रहा था। आरोप है कि इसी दौरान सचिन माहेश्वरी, यतिन भाटी व चार अन्य बदमाशों ने उसे जबरदस्ती कार में डाल कर मारपीट की और उक्त ड्राफ्ट, एटीएम व चैक अपने कब्जे में ले लिए।

इसके बाद ड्राफ्ट को कनॉट प्लेस में हाई वल्यू क्लियरेंस में लगवा कर उसे कैश करा लिया। उक्त घटना के बाद सुनील व अश्‍वनी ने बैंक में एप्लीकेशन देकर आरोपियों का अकाउंट सीज करा दिया। इससे घबराए आरोपियों ने दोनों को शिकायत वापस लेने व रुपए वापस करने की बात कह 21 मई को कविनगर बुलाया।

आरोप है कि वहां आरोपियों ने सुनील की जमकर पिटाई की और जान से मारने की धमकी दी। इसकी शिकायत सुनील ने थाना कविनगर मे की लेकिन रिपोर्ट दर्ज करने के बजाय पुलिस उसपर समझोते का दबाव बनाती रही।

एसएसपी के आदेश को भी कविनगर पुलिस ने अनसुना कर दिया। सवा माह बाद थाना साहिबाबाद में आरोपियों के खिलाफ लूट की रिपोर्ट दर्ज की गयी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:युवक को अगवा कर साढ़े तीन लाख की लूट