class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आत्मरक्षा के गुर

पिछले कुछ वर्षो में जिस तरह से महिलाओं के विरुद्ध आपराधिक घटनाओं में इजाफा हुआ है। ऐसे में एकमात्र तरीका है खुद की सुरक्षा। अकसर लड़कियों को अपनी सुरक्षा के प्रति जागरूक होने और उसके गुर सीखने की सलाह दी जाती है। आज हम आपको आत्मरक्षा से जुड़े कुछ उपायों के बारे में जानकारी दे रहे हैं।

- किसी संस्थान में दाखिला लेने के बाद तकनीक की बारीकियों को सीखना सबसे जरूरी है। सबसे प्रमुख है बचाव का तरीका। अपने दुश्मन से किस तरह बचा जा सकता है, यह जानना सबसे जरूरी है।

- ध्यान सबसे जरूरी है। ध्यान न केवल आपकी एकाग्रता बढ़ाता है, बल्कि आपके चित्त को भी मजबूत करता है। साथ ही ध्यान करने से आपके शरीर में चुस्ती-फुर्ती रहेगी और आप ऊर्जावान रहेंगी।

- ट्रेनिंग के दौरान सबसे प्रमुख बात है दुश्मन पर वार। दुश्मन पर हमला कहां किए जाए, यह जानना सबसे जरूरी होता है।

- दुश्मन को अचरज में डालने के लिए नाक, गला, गर्दन, या सिर पर वार करें।

- अगर कोई आप पर हमला कर रहा है, तो जोर से चीखें, लेकिन ऐसे में खुद पर नियंत्रण बनाए रखना काफी जरूरी है।

- मोबाइल फोन हमेशा अपने पास रखें और अपने करीबियों का नंबर स्पीड डायल पर रखें। साथ ही पुलिस हेल्पलाइन आदि के नंबर भी अपने मोबाइल में रखने काफी जरूरी हैं।

- कहते हैं कि सावधानी ही असली बचाव है। इसलिए कभी सुनसान रास्तों का चुनाव न करें।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आत्मरक्षा के गुर