class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मानसून में देरी स्वाइन फ्लू को रोकने में कारगर

मानसून में देरी स्वाइन फ्लू को रोकने में कारगर

दक्षिण पश्चिम मानसून के आगमन में देरी खतरनाक स्वाइन फ्लू (एच।एन।) वायरस का फैलाव रोकने के लिए अच्छी है। यहां स्थित राष्ट्रीय जीवाणु संस्थान के निदेशक एसी मिश्रा ने बताया कि मानसून में देरी इस सक्रामक फ्लू के प्रसार को रोकने में मददगार साबित हो सकती है।

उल्लेखनीय है कि दुनिया भर में फैली इस बीमारी से ग्रस्त मरीजों की संख्या भारत में इस समय 36 हो गई है। मिश्रा ने बताया कि मौजूदा गर्मी के मौसम में इस वायरस का प्रसार मुश्किल होता है, क्योंकि इसे बढ़ने और फैलने के लिए कम तापमान चाहिए होता है। दूसरी तरफ मानसून के कारण जैसे ही तापमान गिरेगा इस वायरस का फैलाव तेजी से बढ़ सकता है।

यहां स्थित सरकारी अस्पताल के माइक्रोबायलॉजी विभाग की प्रमुख डॉ. रेणु भारद्वाज ने भी इसी तरह का विचार व्यक्त किया। राष्ट्रीय जीवाणु संस्थान पुणे के ही सीरम संस्थान समेत देश के विभिन्न संस्थों को एच1एन1 के लिए एक वैक्सीन बनाने में मदद कर रहा है। इस बीच एच।एन। से निबटने के संदर्भ में दो दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन गत मंगलवार को यहां किया गया था, जिसमें देश  भर की 18 प्रयोगशालाओं के प्रतिनिधियों को बुलाया गया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मानसून में देरी स्वाइन फ्लू को रोकने में कारगर