class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अवैध शराब के छापों के लिए अब किराए पर पीएसी लेगा आबकारी विभाग

आबकारी विभाग कच्ची शराब भट्टियाँ पकड़ने और अन्य शराब माफियाओं के यहाँ छापा मारने के लिए पीएसी किराए पर लेगा। यह निर्णय आबकारी आयुक्त सुधीर एम बोबड़े ने लिया। इलाहाबाद में आबकारी छापा मारने गए दल पर हुए हमले से विभागीय अधिकारी काफी आहत हैं।

इन अफसरों ने घटना में शहीद हुए कर्मचारियों को श्रद्धांजलि दी। प्रदेश भर के आबकारी कार्यालयों में शोकसभा के बाद काम बंद कर दिया गया। आबकारी आयुक्त सुधीर एम बोबड़े ने अफसरों के साथ बैठक की। बैठक के बाद उन्होंने सरकार को पत्र लिखा है कि आबकारी विभाग सबसे ज्यादा राजस्व वसूलता है और उसी विभाग के कर्मचारियों के लिए पुलिस से यथासंभव मदद नहीं मिल पाती है।

पुलिस थानों से मदद लेने में छापा कार्रवाई के लीक होने की आशंका ज्यादा रहती है। इसलिए भी आबकारी विभाग पुलिस थानों को सूचित नहीं करता। श्री बोबड़े ने बताया कि छापा कार्रवाई के लिए अब उनका विभाग थाना पुलिस की मदद लेने के बजय पीएसी के जवानों को किराए पर लेंगे।

उन्होंने बताया कि इस सम्बन्ध में प्रमुख सचिव आबकारी, प्रमुख सचिव गृह और प्रदेश पुलिस मुखिया को पत्र भी लिख दिया है। जल्द ही शासन स्तर पर इस सम्बन्ध में बैठक होगी और उसमें आगे की कार्रवाई की जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अवैध शराब के छापों के लिए अब पीएसी