class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शहर में डायरिया ने पसारे पैर

डायरिया ने शहर में अपने पैर पसार लिए हैं। यही वजह है कि इन दिनों सरकारी से लेकर निजी अस्पतालों में डायरिया पीड़ितों की तादाद सबसे अधिक देखी जा सकती है। शहर के सामान्य अस्पताल के आपातकालीन विभाग में रोजाना पचास फीसदी मरीज इससे पीड़ित ही पहुंच रहे हैं।

सामान्य अस्पताल के आपातकालीन विभाग में रोजाना औसतन दस मरीज डायरिया से ग्रस्त आ रहे हैं। इनमें बच्चों व बुजुर्गों की संख्या अधिक है। फिजिशियन डॉक्टर गुलशन अरोड़ा के अनुसार धीरे-धीरे अस्पताल में डायरिया की शिकायत लेकर पहुंचने वालों की संख्या बढ़ रही है।

मई तक केवल दो-चार लोग ही इससे पीड़ित पहुंच रहे थे। मगर, अब ओपीडी से लेकर आपातकालीन विभाग में भी रोजाना दर्जर्नों मरीज डायरिया से पीड़ित पहुंच रहे हैं। शहर के निजी अस्पतालों में डायरिया पीड़ितों की लंबी कतार दिख रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:शहर में डायरिया ने पसारे पैर