class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एसएमएस या ईमेल के जरिये दें बैंक जानकारी: आरबीआई

एसएमएस या ईमेल के जरिये दें बैंक जानकारी: आरबीआई

बैंकिंग सेवाओं को ग्राहकों के अनुकूल बनाने के प्रयास के तहत भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने ज्यादा से ज्यादा बैंकों को फंड ट्रांसफर के बारे में एसएमएस या ईमेल के जरिये संबंधित ग्राहकों को जानकारी देने को कहा है। 
   

हालांकि कई बैंक प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल कर खातों में पैसा जमा या निकासी के बारे में ग्राहकों को सूचित कर रहे हैं। बहरहाल, रिजर्व बैंक की अधिसूचना में कहा गया है कि सभी बैंकों को इस व्यवस्था को अपनाना चाहिए।

केंद्रीय बैंक ने अधिसूचना में कहा है कि तत्काल लेन-देन निपटान (आरटीजीएस) को ग्राहकों के अनुकूल बनाने के लिये सभी बैंकों को एसएमएस या ईमेल के जरिये ग्राहकों के खातों से पैसा निकासी या जमा के बारे में जानकारी दिए जाने की संभावनाओं की तलाश करनी चाहिए। गौरतलब है कि अधिकतर बैंक आरटीजीएस प्रणाली के अंग है। 

रिजर्व बैंक ने व्यापार निकाय और व्यापार परिषदों से मिली शिकायतों के बाद कोष के हस्तांतरण या जमा के बारे में जानकारी देने के लिये प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल करने का निर्देश दिया है। व्यापार संगठनों ने अपनी शिकायत में कहा था कि उन्हें उनके खातों से पैसा जमा या निकासी के बारे में जानकारी प्राप्त करने में कठिनाई होती है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:एसएमएस या ईमेल के जरिये दें बैंक जानकारी: आरबीआई