class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कोल इंडिया का विनिवेश चालू वित्त वर्ष में: जायसवाल

कोल इंडिया का विनिवेश चालू वित्त वर्ष में: जायसवाल

कोयला मंत्री श्रीप्रकाश जायसवाल ने कहा है कि कोल इंडिया लिमिटेड (सीआईएल) चालू वित्त वर्ष के दौरान दस प्रतिशत हिस्सेदारी बेचेगी। उन्होंने कहा कि सरकार इस विनिवेश में कंपनी के कर्मचारियों को पहली वरीयता देगी।

श्री जायसवाल ने कोयला मंत्रालय का सौ दिन का एजेंडा पेश करते हुए कहा कि विनिवेश एक लम्बी प्रक्रिया है किन्तु मंत्रालय सीआईएल के विनिवेश से सिद्धांतत: सहमत है और उम्मीद है कि चालू वित्त वर्ष के दौरान दस प्रतिशत इक्विटी बेची जाएगी।


उन्होंने कहा कि सरकार इस विनिवेश में कंपनी के कर्मचारियों को पहली वरीयता देगी और उसके बाद जिन लोगों की जमीन अधिग्रहीत की जाएगी उनको कंपनी के शेयर बेचे जाएंगे। फिलहाल कंपनी में सरकार की शत-प्रतिशत हिस्सेदारी है।

जायसवाल ने कहा कि मंत्रालय ने वित्त मंत्री से खनन के काम में आने वाली मशीनों-उपकरणों पर उड्डयन क्षेत्र के लिए आयात की जाने वाली मशीनों की तरह तीन प्रतिशत आयात शुल्क लगाने की मांग की है। उन्होंने कहा कि कोयला क्षेत्र में कुल होने वाले निवेश का 65 से 70 प्रतिशत हिस्सा मशीनों व उपकरणों पर खर्च होता है और इनके आयात पर अभी सीमा शुल्क सात से दस प्रतिशत है जिसे घटाकर उड्डयन क्षेत्र के बराबर लाया जाना चहिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कोल इंडिया का विनिवेश चालू वित्त वर्ष में: जायसवाल