class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मेरठ में चार थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू

उत्तर प्रदेश के मेरठ शहर में दो समुदायों के बीच हिंसा और आगजनी पर काबू पाने के लिए स्थानीय प्रशासन ने चार थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू लगा दिया गया है। इस घटना में 20 से अधिक लोग घायल हो गए हैं जिसमें कुछ पुलिसकर्मी भी शामिल हैं। क्षेत्र में बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिए गए हैं। अब स्थिति नियंत्रण में बताई जा रही है।

पुलिस के अनुसार मेरठ में मंगलवार को देर शाम एक धार्मिक कार्यक्रम में शामिल होने के लिए उड़ीसा से आए कुछ लोग स्थानीय दुकानदारों से सामान खरीद रहे थे। दुकानदारों से ही उनकी कहासुनी होने के बाद मामले ने तूल पकड़ लिया और देखते ही देखते भीड़ ने दुकानदारों से मारपीट करना शुरु कर दिया। उग्र भीड़ ने दुकानों में जमकर तोड़फोड़ की और तनाव को नियंत्रित करने आई पुलिस पर पथराव किया।

उग्र भीड़ ने दुकानदारों की मोटरसाइकिलों में भी आग लगा दी। घटना में 12 पुलिसकर्मियों समेत करीब 25 लोगों के घायल होने की सूचना है। उन्होंने बताया कि भीड़ को काबू करने के लिए पुलिस ने भी कई चक्र हवा में गोली चलाई।

जिला प्रशासन को स्थिति काबू में करने के लिए देर रात कोतवाली, दिल्ली गेट, लिखाड़ी गेट तथा ब्रहमपुरी थाना क्षेत्रों मे कर्फ्यू लगाना पड़ा। तनाव को देखते हुए बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिए गए हैं और अधिकारी स्थिति पर नजर रखे हुए हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मेरठ में चार थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू