class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एनएसजी के चार नए केंद्र

एनएसजी के चार नए केंद्र

मुंबई हमले के परिणामस्वरूप पिछले साल एनएसजी के जिन चार केंद्रों की स्थापना की घोषणा की गई थी वे 30 जून तक कार्य करने लगेंगे। यह जानकारी एनएसजी निदेशक एन.पीएस. औलख ने केंद्रीय गृह मंत्री पी चिदंबरम से मंगलवार को दिल्ली में मुलाकात करने के बाद दी।

औलख ने कहा कि हमे सभी चार स्थानों मुंबई, कोलकाता, हैदराबाद और चेन्नई में जमीन मिल गई है। उन्होंने कहा कि आतंक निरोधी और हाईजैक रोधी चारों केंद्र 30 जून तक संचालित होने लगेंगे। पिछले साल मुंबई में हुए आतंकवादी हमले के बाद सरकार ने चार शहरों में एनएसजी के केंद्र स्थापित करने का फैसला किया था।

एनएसजी को इन केंद्रों को स्थापित करने में महती जिम्मेदारी निभानी पड़ रही है क्योंकि 8000 जवानों वाले इस बल को नए केंद्र के लिए अपनी मौजूदा कार्यशक्ति से ही जवानों को लेना पड़ रहा है। बल को सेना और अर्धसैनिक बलों से प्रतिनियुक्ति पर जवान मिलते हैं।

वह अब भी नए केंद्रों के लिए जवानों की भर्ती कर रही है। फिलहाल इन केंद्रों को मौजूदा मानवशक्ति से ही शुरू किया जाएगा।

 

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:एनएसजी के चार नए केंद्र