class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अनिल ने जीती कानूनी लड़ाई

अनिल ने जीती कानूनी लड़ाई

अंबानी भाइयों के बीच चल रही कॉपरेरेट जंग में छोटे अंबानी, बड़े भाई पर भारी पड़ गए। बांबे उच्च न्यायालय ने मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड को निर्देश दिया है कि वह रिलायंस नेचुरल रिसोर्सेज लिमिटेड को 2.34 डॉलर प्रति एमबीटीयू की दर से प्रतिदिन 2.8 करोड़ घन मीटर गैस 17 साल तक दे। आरआईएल इस फैसले के विरोध में सुप्रीम कोर्ट जाने के मूड में है।

कोर्ट का फैसला आने के बाद आरआईएल के शेयर सोमवार को सात प्रतिशत गिर गए जबकि आरएनआरएल के शेयर 25 प्रतिशत तक चढ़ गए।कृष्णा गोदावरी बेसिन से गैस आपूर्ति के विवाद में बंबई हाईकोर्ट में सोमवार को न्यायमूर्ति जे एन पटेल और केके तातेड़ की खंडपीठ ने कहा कि दोनों भाइयों के बीच बँटवारे की सहमति के आधार पर नया समझोता होना चाहिए।

अगर दोनों भाई नया समझोता नहीं कर पाते तो वे कंपनी अदालत या माँ कोकिलाबेन अंबानी के पास जाकर मामला सुलझएँ।अदालत ने समझोते के लिए एक महीने का समय दिया है।

कोर्ट का यह अंतरिम आदेश नया समझौता होने तक प्रभावी रहेगा। गैस का उपयोग सिर्फ बिजली उत्पादन के लिए होगा न कि व्यापार के लिए। आरएनआरएल एक महीने में आरआईएल से करार कर लेने की तैयारी में है।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अनिल ने जीती कानूनी लड़ाई