class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

45 हजार शिक्षकों की नियुक्ति होगी

उत्तर प्रदेश सरकार प्राथमिक विद्यालयों में अध्यापकों की कमी दूर करने के लिए जुलाई से शुरू हो रहे सत्र से 45 हजार अध्यापकों की नियुक्ति सुनिश्चित करेंगी।
   
उत्तर प्रदेश के बेसिक शिक्षा मंत्री डा़ धर्म सिंह सैनी ने रविवार को बेसिक शिक्षा विभाग की नई वेबसाइट का शुभारम्भ करते हुये कहा कि इस वेबसाइट के जरिये प्रदेश के सभी प्राथमिक विद्यालयों की स्थिति एवं उनमें अध्यापन कार्य करने वाले अध्यापकों की जानकारी प्राप्त होगी।
  
उन्होंने कहा मुख्यमंत्री मायावती की प्राथमिकताओं में प्राथमिक शिक्षा शामिल है इसीलिए हमारा प्रयास है कि प्रदेश के सरकारी स्कूलों में शिक्षक पढ़ाये और शत प्रतिशत नामांकन के साथ बच्चों को अच्छी शिक्षा मिले। प्राइमरी और जूनियर कक्षाओं में पढ़ाने वाले शिक्षकों का भी अब मूल्याकंन होगा और इसके लिए जिला स्तर पर बारह सदस्यीय टास्क फोर्स टीम का गठन किया गया है जो समय समय पर इन विद्यालयों का निरीक्षण करेगी।
   
डा़ सैनी ने बताया कि शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार के लिए कक्षा एक, दो, तीन और चार की गृह परीक्षा कराई जायेंगी, जबकि कक्षा पांचवीं और आठवीं की सार्वजनिक परीक्षा का प्रावधान पूर्व से ही लागू है।
  
उन्होंने कहा कि कई जनपदों से शिकायतें मिली है कि बेसिक शिक्षा अधिकारी अपने कार्यों में रुचि नहीं ले रहे हैं। इन शिकायतों की पुष्टि होने पर दोषियों को दंड दिया जाएगा और जिनका कार्य अच्छा होगा उन्हें सम्मानित किया जायेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:45 हजार शिक्षकों की नियुक्ति होगी