class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कुख्यात बदमाश कृष्ण पहलवान अदालत में पेश

कुख्यात बदमाश कृष्ण पहलवान को जिला पुलिस ने शहर के चर्चित नरेंद्र राठी हत्याकांड की साजिश रचने के मामले में शनिवार को मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी मेजर फलीत शर्मा की अदालत में पेश किया, जहां अदालत ने उसे एक दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया। अदालत ने उसे एक नवंबर 2006 से भगौड़ा घोषित कर रखा था। कृष्ण पहलवान को पुलिस ने भारी पुलिस बल के साथ अदालत में पेश किया था। रिमांड अवधि के दौरान पुलिस कृष्ण पहलवान से नरेंद्र राठी की हत्या करने की एवज में मिली सुपारी के एक लाख रुपये बरामद करेगी। अदालत ने कृष्ण को रिमांड पर भेजने से पहले उक्त मामले में जांच अधिकारी की जांच में शामिल होने के आदेश दिए थे।


विदित हो कि गत दिनों ने कृष्ण पहलवान को राजस्थान पुलिस ने आबकारी अधिनियम के आरोप में गिरफ्तार किया था। उसे दिल्ली पुलिस राजस्थान से प्रोडक्शन वारंट पर लेकर आई थी जहां से सोनीपत पुलिस ने शनिवार को प्रोडक्शन वारंट लेकर कृष्ण को अपनी हिरासत में लिया था। गौरतलब है कि 15 अक्टूबर 2005 को देवडू रोड पर कार में सवार नरेंद्र राठी की एक अन्य कार में सवार युवकों ने अंधाधुंध गोलियां बरसाकर हत्या कर दी थी। नरेंद्र राठी की बहन महेंद्री की शिकायत पर गांव झरोठ निवासी चांदवीर, संदीप, सतीश, राजवीर, दलेल, शीशपाल आदि के खिलाफ मामला दर्ज किया था। उधर नरेंद्र राठी हत्याकांड के कुछ दिनों बाद बहादुरगढ़ पुलिस ने कृष्ण पहलवान गैंग के शार्प शूटर संजय त्यागी को गिरफ्तार किया था। संजय त्यागी ने पुलिस के सामने खुलासा किया था कि उसने कृष्ण पहलवान के इशारे पर गांव झरोठ निवासी चांदवीर, संदीप आदि के साथ मिलकर नरेंद्र राठी की गोली मारकर हत्या कर दी थी।

चांदवीर व उनके परिजनों ने कृष्ण पहलवान को नरेंद्र राठी की हत्या करने के लिए लाखों रुपये की सुपारी दी थी। संजय के इंकशाफ के बाद कृष्ण पहलवान का भी नाम आने से यह मामला काफी चर्चित हो गया था। पुलिस ने संजय के इंकशाफ के बाद इस मामले में चांदवीर, रामचंद्र, दलेल, जगदीश, नरेंद्र, भगवान, जगबीर, राजबीर, सतपाल पहलवान, अजीत, संदीप आदि को गिरफ्तार कर लिया था। गत दिनों राजस्थान पुलिस की ओर से कुख्यात बदमाश कृष्ण पहलवान को भी गिरफ्तार कर लिए जाने की सूचना मिलते ही सोनीपत पुलिस भी उसे शनिवार को प्रोडक्शन वारंट पर ले आई। पुलिस ने शनिवार को उसे मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी मेजर फलीत शर्मा की अदालत में पेश किया जहां अदालत ने उसे मामले की जांच में शामिल होने के आदेश दिए तथा डेढ़ घंटा बाद दोबारा से उसे अदालत में पेश करने के आदेश दिए।

पुलिस ने कृष्ण को दोबारा अदालत में पेश कर सुपारी के एक लाख रुपये बरामद करने के लिए एक दिन के पुलिस रिमांड की मांग की थी। अदालत ने इसे मंजूर करते हुए कृष्ण पहलवान को एक दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कुख्यात बदमाश कृष्ण पहलवान अदालत में पेश