class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुनाफा वसूली के चलते शेयर बाजार फिसले

मुनाफा वसूली के चलते शेयर बाजार फिसले

निवेशकों की मुनाफा वसूली की वजह से भारी उतार चढ़ाव के बीच शेयर बाजार बाम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का संवेदी सूचकांक सेंसेक्स और नेशनल स्टाक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी शुक्रवार लगातार दूसरे कारोबारी दिन भी गिरावट पर रहे। हालांकि गत मार्च के बाद से देश के प्रमुख शेयरों बाजारों में 90प्रतिशत तक की बढ़ोत्तरी हुई है।

विदेशी शेयर बाजरों में मिला जुला रूख रहा और भारतीय बाजारों पर इसका कोई विशेष असर देखने को नहीं मिला। बीएसई में कारोबार की शुरूआत में सेंसेक्स 34.95 अंको की बढ़त के साथ 15466.82 अंकों पर खुला। सत्र के दौरान भारी उतार चढ़ाव देखा गया। सेंसेक्स उपर में 15600.30 अंकों तक चढ़ा और नीचे में यह 15174.28 अंकों तक लुढ़का। अंत में यह गुरुवार के 15411.47अंक से 1.13 प्रतिशत अर्थात 173.53 अंकों की गिरावट के साथ 15237.94 पर बंद हुआ।

इसी तरह से एनएसई का निफ्टी लगभग स्थिर खुला और कारोबार के दौरान इसमें विशेष उथल पुथल नहीं रहा। सत्र के दौरान ऊपर में 4693.20 अंक और नीचे में 4566.15 अंक तक लुढका और कारोबार के अंत में यह गुरुवार के 4637.70 अंकों से 1.17 प्रतिशत अर्थात 54.30 अंक लुढ़कते हुए 4583.40 अंक पर बंद हुआ।

बीएसई का मिडकैप 2.10 प्रतिशत अर्थात 112.55 अंकों की गिरावट के साथ 5235.03 अकों पर और स्मालकैप 2.21 प्रतिशत अर्थात 135.78 अंक लुढ़कते हुए 6014.66 अंकों पर बंद हुआ। बीएसई के अधिकांश समूहों के सूचकांक में गिरावट का रूख रहा। बीएसई में 1218 कंपनियों के शेयर मुनाफे  में रहे जबकि 1553 कंपनियों के नुकसान में और 60 में कोई बदलाव नहीं आया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मुनाफा वसूली के चलते शेयर बाजार फिसले