class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मजदूरों को 89 की जगह अब मिलेंगे 102 रुपए, मेठ को मिलेगा 120 रुपया

नरेगा के मजदूरों के लिए खुशखबरी है। राज्य सरकार ने उनकी मजदूरी में 13 रुपए का इजाफा कर दिया है। अब उन्हें प्रतिदिन 89 रुपए की जगह 102 रुपए मिलेंगे। राज्य सरकार ने बढ़ती महंगाई के मद्देनजर नरेगा मजदूरों की मजदूरी बढ़ाने का निर्णय लिया है।

खास बात यह है कि सरकार ने मजदूरों के मेठ की मजदूरी भी बढ़ाने का फैसला किया है। उन्हें अब 109 रुपए की जगह 120 रुपए मिलेंगे। राज्य के ग्रामीण विकास मंत्री श्रीभगवान सिंह कुशवाहा ने बताया कि नरेगा मजदूरों को अभी तक प्रतिदिन की मजदूरी के एवज में 89 रुपए का भुगतान किया जाता था। पर, बढ़ती महंगाई को देखते हुए राज्य सरकार ने इसे कम माना है। लिहाजा अब उनकी मजदूरी 102 रुपए कर दी गयी है।

उन्होंने बताया कि नई मजदूरी दर इसी माह से लागू कर दी जाएगी। इसके साथ ही मजदूरों के मेठ को अब 120 रुपए का भुगतान होगा। पढ़े लिखे जॉब कार्डधारियों को मेठ की जिम्मेवारी सौंपी जाती है। श्री कुशवाहा ने कहा कि नरेगा मजदूरों की मजदूरी सीधे उनके बैंक खाते में जमा होगी।

राज्य सरकार का मानना है कि नरेगा के तहत राज्य में चल रही योजनाओं के कारण बिहार से मजदूरों का पलायन घटा है। बिहार के मजदूर रोजी-रोटी के लिए पंजाब, हरियाणा और दूसरे प्रदेशों में जाते थे। पर, मजदूरों को अब राज्य में ही बेहतर मजदूरी और काम दोनों ही मिल रहा है। सरकार का दावा है कि नई मजदूरी दर लागू होने से इसमें और कमी आएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:राज्य सरकार ने बढ़ाई नरेगा की मजदूरी