class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

देश के 16 जोनों में भ्रष्ट अधिकारियों के यहां सीबीआई के छापे

देश के 16 जोनों में भ्रष्ट अधिकारियों के यहां सीबीआई के छापे

सीबीआई ने भ्रष्टाचार के खिलाफ बुधवार को देशभर के 16 जोन में छापे मारे। दिल्ली, मुंगेर, दरभंगा, गया, कोलकत्ता, चेन्नई, जोधपुर, नागपुर और लखनऊ इत्यादि जगहों पर जिन अधिकारियों के यहां छापे मारे गए उनमें बीएसएनएल, दिल्ली विकास प्राधिकरण और स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के कई अधिकारियों समेत कोयला भवन के पूर्व जीएम (सेल्स व मार्केटिग) तथा कुछ राजनीतिक नेता व  ठेकेदार शामिल हैं। एक अधिकारी की 99 लाख रुपये की संपति का पता चला है।

सूत्रों के अनुसार कुल 67 मामले दर्ज किए गए हैं। सीबीआई प्रवक्ता हर्ष भाल ने बताया कि भ्रष्टाचार विरोधी अभियान को तेज करते हुए सीबीआई ने अगले एक पखवाडे़ तक अभियान छेड़ने का निर्णय लिया है। बुधवार को मारे गए छापों के दौरान दिल्ली विकास प्राधिकरण के अधीक्षण अभियंताओं व कनिष्ठ अभियंताओं के 12 ठिकानों की तलाशी ली गई।

आरोप है कि इन लोगों के चलते डीडीए को एक करोड़ का चूना लगा और रकम ठेकेदार के पास गई। तलाशी के दौरान बैंकों के छह लाकरों का भी पता चला है। इनमें से एक लॉकर खोला गया जिसमें नौ लाख 72 हजर रुपये, सोने के दस बिस्कुट तथा आभूषण व सिक्के मिले हैं।

मुंगेर स्थित स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के स्पेशल असिस्टेंट उमेश प्रसाद सिंह के मुंगेर तथा दरभंगा स्थित ठिकानों पर छापेमारी की गई। सिंह की करीब 99 लाख रुपये की संपति का पता चला है। बीएसएलएल के गया स्थित तत्कालीन डीजीएम सी.पी. सिंह के अलावा उनसे जुड़े कई कर्मचारियों और ठेकेदारों के गया, कोलकाता, लखनऊ तथा चेन्नई स्थित ठिकानों पर भी छापे डाले गए।

धनबाद में बीसीसीएल में 40 करोड़ के लिकेंज घोटाले का पर्दाफाश हुआ है और रिटायर्ड जीएम उदयन भट्टाचार्य के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। कोयला व्यवसायी व कांग्रेस नेता सुरेश सिंह के यहां भी छापेमारी की गई।

राजस्थान के जोधपुर तथा सीकर जिलों में दो अधिकारियों सहित चार लोगों के आवासों पर छापे मारकर नकदी तथा अन्य कागजात बरामद किए गए। जोधपुर में केन्द्रीय ऊन विकास बोर्ड के कार्यकारी निदेशक के निवास पर भी छापा मारा गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भ्रष्टाचार के खिलाफ देशभर में सीबीआई का छापा