class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बाबई में कृषि महोत्सव में दी किसानों को अनेक जनकारियां

सरकार किसान के द्वार कार्यक्रम के तहत विकासखण्ड अगस्त्यमुनि की न्याय पंचायत मयकोटी के बाबई गांव में खरीफ कृषि महोत्सव कार्यक्रम संपंन हुआ जिसमें किसानों को कई जनकारियां दी गयी जबकि कृषि यंत्र, बीज व दवा वितरित की गयी।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि जिला पंचायत अध्यक्ष चण्डी प्रसाद भट्ट ने काश्तकारों को सम्बोधित करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार का उद्देश्य किसानों को उसके घर पर ही कृषि यंत्र, बीज व कृषि निवेश उपलब्ध कराना है। उन्होंने कहा कि काश्तकारों को योजनाओं का लाभ पहुंचाने के लिए पूरे प्रदेश में यह कार्यक्रम चलाया जा रहा है।

उन्होंने खेती से आर्थिकी मजबूत बनाने पर जोर देते हुए कहा कि सब्जी उत्पादन, फूलों की खेती, अच्छी नस्ल के पशुपालन के प्रति जगरूकता पैदा करने की जरूरत है। मुख्य कृषि अधिकारी आरएल शाह ने किसानों को कृषि विभाग की योजनाओं के साथ ही राष्ट्रीय कृषि बीमा योजना की विस्तृत जानकारी दी।

उद्यान विभाग के ज्येष्ठ उप निरीक्षक सीसी पाण्डेय ने विभागीय योजनाओं के साथ ही हार्टिकल्चर टैक्नालाजी मिशन की जनकारी किसानों को दी। कृषि विज्ञान केन्द्र जखधार के विशेषज्ञ डा नीलकांत ने फसलों, सब्जी, फलों पर लगने वाली बीमारियों की जानकारी दी।

पशु चिकित्साधिकारी डा पंकज प्रकाश ने किसानों को पशुओं के रख-रखाव के संबंध में बताया। कार्यक्रम की अध्यक्षता ग्राम पंचायत प्रधान बाबई अंजू देवी ने की।

इस अवसर पर तल्लानागपुर भाजपा मण्डल अध्यक्ष प्रलहाद सिंह गुंसाई, उप प्रधान बाबई महेन्द्र सिंह गुंसाई, पूर्व प्रधान हरेन्द्र सिंह राणा, गजेन्द्र सिंह भण्डारी, एसएस गुंसाई सहित सभी सम्बन्धित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन विकासखण्ड प्रभारी विजय कुमार मलासी ने किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बबई गांव में खरीफ कृषि महोत्सव