class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

निर्धारित 27,536 रुपए से ज्यादा फीस लेने वाल के कालेजों के खिलाफ कार्रवाई


शासन ने बीएड के लिए तय शुल्क से अधिक फीस लेने वाले बीएड कालेजों पर शिकंज और कस दिया है। शासन ने बीएड कालेजों के खिलाफ शिकायत दर्ज करने का एक प्रारूप तैयार किया है,जिसके साथ शिकायत कर्ता से एक शपथ पत्र भी लिया जाएगा।

शासन ने निर्धारित 27,536 रुपए से ज्यादा फीस लेने वाले कालेजों के खिलाफ कार्रवाई के अधिकार संबंधित विश्वविद्यालय को दिए गए हैं। सभी क्षेत्रीय उच्च शिक्षा अधिकारियों को बुधवार को भेजे गए निर्देश में कहा गया है कि छात्रों को शिकायत पत्र उपलब्ध कराया जाए जिस पर छात्र का नाम, पिता का नाम, अनुक्रमांक, पहली व दूसरी काउंसलिंग और उसकी तारीख, आवंटित कालेज का नाम, संबंधित विवि का नाम और शिकायत के बिन्दु शामिल होंगे। शिकायत कर्ता को साथ में दिए गए शपथपत्र में अपना पूरा नाम व पता देना होगा।

क्षेत्रीय उच्च शिक्षा अधिकारी इन आठ बिन्दुओं के शिकायती पत्रों को संकलित कर उसे संबंधित विश्वविद्यालय को उपलब्ध कराएँगे। इसके बाद विश्वविद्यालय अधिक फीस लेने वाले कालेजों के खिलाफ कार्रवाई करेगा या उच्च शिक्षा निदेशक या शासन को कठोर कार्रवाई के लिए संस्तुत करेगा। सचिव उच्च शिक्षा कामरान रिजवी ने कहा कि तय शुल्क से अधिक फीस वसूलने वाले कालेजों को बख्शा नहीं जाएगा।

इस बीच निदेशक उच्च शिक्षा ने सभी बीएड कालेजों से उनकी संस्था के संबंध में पूरी जनकारी माँगी है। यह जनकारी एक निश्चित प्रारूप पर 20 जून से पूर्व देने को कहा गया है। उन्होंने सभी कुलसचिवों से कहा है कि कालेज के खिलाफ मिलने वाली शिकायतों पर तत्काल कार्रवाई की जाए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ज्यादा फीस लेने वाले कालेजों पर शासन ने शिकंज कसा