class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हाईकोर्ट के निर्देश पर वरिष्ठता मामले में पूर्वाचल विवि का फैसला

अग्रसेन कन्या पीजी कालेज में वरिष्ठता का विवाद समाप्त हो गया। हाईकोर्ट के निर्देश पर पूर्वाचल विश्वविद्यालय ने वरिष्ठता संबंधी मामले की सुनवाई कर प्राचार्या डा.मधु अस्थाना को वरिष्ठ घोषित किया है। उनसे वरिष्ठ होने का दावा कर प्राचार्य पद की मांग करने वाली मंजू वर्मा को दूसरे स्थान पर रखा है। इसी के साथ 11 महीने से कालेज में चल रहा वरिष्ठता का विवाद खत्म हो गया। यह जानकारी प्राचार्या डा.मधु अस्थाना ने बुधवार को एक प्रेसवार्ता में दी।

हाईकोर्ट के निर्देश से प्रबंध समिति के उस फैसले पर भी मुहर लग गई जिसमें डा. मधु अस्थाना को वरिष्ठ मानते हुए प्राचार्य बनाया गया था। तब इस पर काफी हंगामा मचा था। जिला प्रशासन को हस्तक्षेप करना पड़ा था।
डा.अस्थाना ने बताया कि महाविद्यालय की वार्षिक परीक्षाएं समाप्त हो चुकी हैं। केंद्रीय मूल्यांकन चल रहा है। 30 जून तक सभी रिजल्ट घोषित किए जाएंगे।

इसी क्रम में आज एमए द्वितीय और चतुर्थ सेमेस्टर मनोविज्ञान, प्राचीन इतिहास, हिन्दी, गृह विज्ञान (आहार एवं पोषण, वस्त्र परिधान, प्रसार शिक्षा व बाल विकास), एमएससी चतुर्थ सेमेस्टर जंतु विज्ञान का रिजल्ट घोषित किया गया।

एक प्रश्न के जवाब में उन्होंने बताया कि फीस वृद्धि का मामला प्रबंध समिति के पास है। उसकी संस्तुति पर ही फीस बढ़ेगी। बीबीए और बीसीए की कक्षाएं शुरू करने की योजना है। पूर्वाचल विश्वविद्यालय को प्रस्ताव भेज गया है।

यूजीसी को इनोवेटिव प्रोग्राम के तहत ‘मानव अभियांत्रिकी’ और ‘परामर्श’ संबंधी पाठ्यक्रम भी स्वीकृति के लिए भेज गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:डा. मधु ही अग्रसेन कालेज की प्राचार्या