class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चार अमेरिकी लिट्टे का समर्थन करने के दोषी

चार अमेरिकी लिट्टे का समर्थन करने के दोषी

श्रीलंका के विद्रोही संगठन लिट्टे को साजो सामान मुहैया कराने के आरोपी चार अमेरिकी तमिलों को एक अमेरिकी अदालत ने दोषी करार दिया है। इन तमिलों पर लिट्टे के लिए हथियार और गोली आदि की खरीद में भी मदद का आरोप है।

अमेरिकी अटॉर्नी बेंटन जे कैंपबेल ने कहा कि श्रीलंका में लिट्टे नेताओं की हुई हार के कुछ ही हफ्ते बाद अमेरिका में लिट्टे नेताओं और अन्य समर्थकों को न्याय के कटघरे में खड़ा किया गया है।

लिट्टे का समर्थन करने वाले ये चार आरोपी-  करूणाकरण कंडासामी उर्फ करूणा, प्रदीपन थावराजा उर्फ राजा प्रदीपन उर्फ थांबी संप्रास उर्फ स्टीवन, मुरूगेषु विनायकमूर्ति उर्फ डॉ़ मूर्ति उर्फ विनायकमूर्ति मुरूगेषु और विजयशांतर पदपनाथन उर्फ चंद्रू हैं ।

कैंपबेल ने कहा कि लिट्टे के लिए लाखों डॉलर जुटाने और उनके लिए हथियार और तकनीक की व्यवस्था करने में शामिल रहने के आरोप में बचाव पक्ष के सभी सदस्यों को दोषी करार दिया गया है । अमेरिका के मुख्य जिला न्यायाधीश रेमंड दियारी ने लिट्टे नेताओं के खिलाफ यह सुनवाई की । कांडासामी और प्रदीपन को 20-20 साल की कैद, जबकि विनायकमूर्ति और पदमनाथन को 15-15 साल की सजा दी गयी ।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:चार अमेरिकी लिट्टे का समर्थन करने के दोषी