class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जजों का बदलेगा जायका

अब पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट के जजों के जायके में बदलाव होने जा रहा है। होटल-रेस्तरां जैसे लजीज व्यजंन हाईकोर्ट के जजों को अपने ही दफ्तर में उपलब्ध हो जाएगी। इसके लिए किसी बड़े होटल या रेस्तरां में ऑर्डर प्लेस करने की जरूरत नहीं होगी। इनके पुराने खानसामे ही नए जायके के साथ साहब को व्यंजन परोसेंगे। आने वाले दिनों में हाईकोर्ट की कैंटीन का भी लुक बदल जाएगा।


इन दिनों डॉ. अम्बेडकर इंस्टीटच्यूट ऑफ होटल मैनेजमेंट कैटरिंग एंड न्यूट्रीशन में जजेस के खानसामों का प्रशिक्षण चल रहा है। यह प्रशिक्षण शिविर 15 दिनों का होता है। अब तक हाईकोर्ट कर्मचारियों की 18 सदस्यीय एक टीम प्रशिक्षण ले चुकी है, जबकि दूसरी 28 सदस्यीय टीम कुकिंग और परोसने आदि के गुर सीख रही हैं।

हिन्दुस्तान ने सोमवार को इंस्टीटच्यूट का दौरा कर पाया कि प्रशिक्षुओं को हरा-भरा कबाब, ग्रीन ओपन सैंडविच, वेजिटेबल कटलेट, पैटीज, पेस्ट्री, स्टफ फ्राइड मशरूम और कैनेपिल्स बनाने की तालीम दी गई। इन्होंने अब तक सूप बनाने की कला सीख ली है। बातचीत के क्रम में उन्होंने बताया कि सप्ताह भर की ट्रेनिंग में ही काफी कुछ बदलाव दिखा है, उन्होंने काफी नई चीजें सीखी हैं।

कुछ दिनों पहले हाईकोर्ट के न्यायाधीश ने बुलाकर रसोई के कर्मचारियों को प्रशिक्षण देने की की बात कही थी, जिसे हमने सहर्ष स्वीकार किया। एक स्कीम के तहत हम कर्मचारियों को 15 दिन की ट्रेनिंग दे रहे हैं।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जजों का बदलेगा जायका