class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अमेरिकी पत्रकारों को उत्तर कोरिया में 12 वर्ष की सजा

अमेरिकी पत्रकारों को उत्तर कोरिया में 12 वर्ष की सजा

अमेरिका की दो महिला पत्रकारों को उत्तर कोरिया में संगीन अपराध तथा देश में गैरकानूनी प्रवेश के मामले में सोमवार को श्रम शिविर में 12 वर्ष तक रहने की सजा सुनाई गई।

प्योंगयांग स्थित सेंट्रल कोर्ट ने चीनी मूल की अमेरिकी पत्रकार लॉरा लिंग और कोरियाई मूल की अमेरिकी पत्रकार इयुना ली को गुरुवार से सोमवार तक चली सुनवाई के बाद सजा सुनाई।

यह फैसला उस समय आया है जब परमाणु परीक्षण करने की वजह से उत्तर कोरिया को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर घोर आलोचना का सामना करना पड़ रहा है। कुछ पर्यवेक्षकों ने इन दोनों को 10 वर्ष की सजा मिलने का अनुमान लगाया था लेकिन इन्हें इससे भी कठोर सजा दी गई।

गौरतलब है कि लिंग और ली को चीन-उत्तर कोरिया की सीमा से 17 मार्च, 2009 को गिरफ्तार किया गया था। अमेरिका इन पत्रकारों को रिहा किए जाने की मांग करता रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अमेरिकी पत्रकारों को उत्तर कोरिया में 12 वर्ष की सजा