class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डिक्सनरी में ‘स्लमडॉग’ शब्द का विरोध

अंग्रेजी भाषा का दस लाखवां शब्द बनने जा रहा स्लमडॉग को स्लम निवासियों की संज्ञा दिए जाने पर कर्तव्य बोध नाम की एक सामाजिक संस्था ने इसका खुलकर विरोध किया है। संस्था के पदाधिकारियों का कहना है कि यह स्लम बस्तियों रहने वाले करोड़ों पुरुषों, महिलाओं व बच्चों के लिए अपमान जनक है। संस्था ने भारत सरकार और यूनाइटेड नेशन को पत्र लिखकर इस शब्द को हटाने की मांग की है।


संस्था के अध्यक्ष शांतप्रकाश ने कहा कि भारत का एक चौथाई हिस्सा झुग्गी-झोपड़ियों में निवास करता है। ऐसे में कुत्ता शब्द से संबोधित करना उन्हें आघात पहुंचाना है। उन्होंने कहा यह संविधान बिलकुल खिलाफ है और वह भी इस बात की मंजूरी नहीं देता। ऑस्कर विजेता फिल्म स्लमडॉग मिलेनियर में इस शब्द का प्रयोग एक बार माफ भी किया जा सकता है। लेकिन इसे अंग्रेजी भाषा का शब्द बनाना किसी भी हाल में सही नहीं माना जा सकता। यह मानवता पर गहरा कुठाराघात है।

उन्होंने चेतावनी दी है कि इस शब्द को डिक्सनरी से नहीं हटाया गया तो इसके खिलाफ जमकर विरोध-प्रदर्शन किया जाएगा। ज्ञात हो कि टेक्सास में आस्टिन स्थित द ग्लोबल लैंगवेज कंपनी ने दुनिया के नए अंग्रजी शब्दों की सूची तैयार की है। इस सूची में शामिल स्लमडॉग शब्द की संज्ञा झुग्गी-झोपड़ियों में रहने वाले लोगों से दी गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:डिक्सनरी में ‘स्लमडॉग’ शब्द का विरोध