class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सउदी अरब में तीस साल में पहली फिल्म रिलीज

सउदी अरब में तीस साल में पहली फिल्म रिलीज

सऊदी अरब में गत शुक्रवार को तीस साल बाद कोई फिल्म जैसे तैसे प्रदर्शित की गई लेकिन अब इस फिल्म के हीरो को जान से मारने की धमकियां रोजाना मिल रहीं हैं।

सउदी अरब में पिछले तीन दशकों से सिनेमा पर प्रतिबंध लगा हुआ है लेकिन पिछले शुक्रवार को एक हास्य फिल्म ‘मनाही’ बड़े जतन के बाद राजधानी रियाद के किंग फहद सांस्कृतिक केंद्र के सिनेमाघर में लोगों के सामने पेश की गई। सऊदी सिनेमा के इतिहास में मील का पत्थर बनी इस फिल्म का लोगों की भारी भीड़ ने जम कर स्वागत किया।

लेकिन इस खुशी के इन फूलों में कुछ कांटे भी हैं। फिल्म के नायक फयाज अल मालिकी ने गल्फ  न्यूज को बताया कि इस्लामी आतंकवादियों ने उसे फोन पर जान से मारने की धमकी दी है। यह फिल्म जेद्दा और तैफ  में पहले भी दिखाई जा चुकी है और इसने वहां सफलता के झंड़े भी गाड़े। इस फिल्म को वहां 25 हजार पुरूषों और नौ हजार महिलाओं ने देखा और सराहा।

इस फिल्‍म की कहानी यह है कि एक स्थानीय निवासी जल्द अमीर बनने की ख्वाहिश में स्टॉक मार्केट की चकाचौंध में फंस जाता है और पैसों का घोटाला कर बैठता है। इस फिल्म में दो नायिकाएं भी है। इनमें से एक सीरिया की मोना वसीफ  और सउदी अरब की रिमाज ने रजत पट पर उपस्थिति दर्ज कराई।

मलिक को उम्मीद है कि उसकी यह फिलम न सिर्फ  विदेशों में बल्कि देश के अन्य सिनेमाघरो में भी दिखाई जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सउदी अरब में तीस साल में पहली फिल्म रिलीज