class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आईएमए की मुख्यधारा में शामिल हुए 45 कैडेट्स

आर्मी कैडेट कालेज (एसीसी) से पास आउट होने के बाद 45 कैडेट आईएमए की मुख्यधारा में शामिल हो गए हैं। एसीसी पास आउट करने वाले कैडेट्स को आईएमए के कमांडेंट ले.जनरल आरएस सुजलाना ने सर्टिफिकेट प्रदान किए। उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले कैडेट्स को मेडल भी दिए गए।

शुक्रवार को आईएमए के प्रसिद्ध चैटवुड हाल में एसीसी के कैडेट्स का दीक्षांत समारोह आयोजित किया गया। समारोह में एसीसी के 45 कैडेट्स को जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी की ग्रेजुएशन की डिग्री दी गई। इन 45 कैडेट्स में से 27 कैडेटस आर्टस स्ट्रीम और 18 साइंस स्ट्रीम से ग्रेजुएट हुए। ये कैडेट्स अब आईएमए की मुख्यधारा में शामिल होकर डेढ़ वर्ष का शारीरिक प्रशिक्षण प्राप्त करेंगे। इस मौके पर आईएमए के कमांडेंट ले.जनरल आरएस सुजलाना ने कहा कि कैडेट्स का असली प्रशिक्षण अब शुरू होगा। अभी तक जितनी मेहनत की है इससे और अधिक मेहनत की जरुरत है। यहां पर कैडेट्स के भीतर नेतृत्व क्षमता, नैतिकता और शारीरिक साहस की क्षमताएं बढ़ाई जाएंगी। इससे पूर्व एससीसी के कार्यकारी हेड आफ एकेडमिक्स डिपार्टमेंट कर्नल वीएन चतुर्वेदी ने कालेज की रिपोर्ट पेश की।

पदक विजेता

चीफ आफ आर्मी स्टाफ गोल्ड मेडल- सीनियर कैडेट कैप्टन टीबी गुरुंग

चीफ आफ आर्मी स्टाफ सिल्वर मेडल - कंपनी कैडेट कैप्टन अजय धनिक

चीफ आफ आर्मी स्टाफ ब्रांज मेडल

- कंपनी सार्जेट मास्टर सन्नी गुरुंग

कमांडेंट सिल्वर मेडल - स्टेंडिंग फ‌र्स्ट इन सर्विस कोर्स- कंपनी सार्जेट मास्टर सन्नी गुरुंग

कमांडेंट सिल्वर मेडल- फार स्टेंडिंग फ‌र्स्ट इन आर्टस अमरेश सिंह

कमांडेंट सिल्वर मेडल- फार स्टेंडिंग फ‌र्स्ट इन साइंस स्ट्रीम- अजय धनिक

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आईएमए की मुख्यधारा में शामिल हुए 45 कैडेट्स